संसू, कटक : शासक बीजू जनता दल (बीजद) की मनमानी एवं कटक नगर निगम (सीएमसी) अधिकारियों के लापरवाही के चलते शहर का विकास जिस तरह से होना चाहिए, उस तरह से नहीं हो सका है। यह आरोप लगाते हुए विपक्षी पार्टी, कांग्रेस एवं भाजपा ने स्वायत्त शासन दिवस को काला दिवस के रूप में मनाया। स्वायत्त शासन दिवस के अवसर पर शुक्रवार को दिनभर विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास हुआ मगर कांग्रेस ने इसका विरोध किया। खासकर वेलव्यू में कांग्रेस के नेता मो. मुकीम की अगुवाई में पार्टी कार्यकर्ता धरना पर बैठे रहे। यहां पर होने वाले शिलान्यास कार्यक्रम का भी विरोध किया, इससे यहां उत्तेजना का माहौल बन गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शिलापट को तोड़ने का प्रयास किया। इस पर पुलिस ने तमाम कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार कर लिया। नगर कांग्रेस अध्यक्ष मो. मुकीम के अनुसार, शहर में स्वच्छता से लेकर बिजली, सड़कों का मरम्मत आदि कार्य बदहाल स्थिति में है। जलबंदी की समस्या शहर के लोगों की परेशानी को बढ़ा रही है। ऐसे में नगर निगम इन समस्याओं को हल करने में पूरी तरह से नाकाम हो चुकी है।

इधर, भाजपा के कार्यकर्ताओं ने सीएमसी कार्यालय के सामने धरना दिया। वरिष्ठ भाजपा नेता समीर दे, नयन किशोर महांती, दिलीप मलिक, युवा नेता सिकंदर अली आदि की अगुवाई दर्जनों भाजपा नेता व कार्यकर्ता धरना पर बैठने के साथ-साथ आयोजित प्रतिवाद सभा में नगर निगम के अधिकारी व शासक बीजद निशाना साधा। भाजपा के मुताबिक शहर का विकास पिछले 15 साल में जिस तरह से होना चाहिए, नहीं हो पाया है। शहर में जितने परियोजनाओं का काम चल रहा है, सभी आधा-अधूरा है। कई जगहों पर केवल शिलान्यास किया गया है, इसका कार्य अभी तक शुरू नहीं हुआ है।

वहीं, शासक दल बीजद के विधायक देवाशीष सामंतराय, विधायक प्रभात रंजन विश्वाल, सांसद अनुभव महांती, मेयर मीनाक्षी बेहरा, सीएमसी कमिश्नर विकास चंद्र महापात्र आदि ने विपक्ष के आरोपों को निराधार बताया है। कहा कि शहर में जिस तरह से विकास कार्य होना चाहिए, हो रहा है। विरोधी दल पारंपरिक तौर पर विरोध कर रहे हैं। दिनभर में कुल 34 परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया गया।

Posted By: Jagran