भुवनेश्वर, एएनआइ। Pinaka Missile. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने शुक्रवार को पिनाका मिसाइल का फिर से ओडिशा तट से सफल परीक्षण किया। मिसाइल की मारक क्षमता अब 90 किलोमीटर तक हो गई है। 

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वारा विकसित पिनाका मिसाइल 90 किमी की सीमा तक दुश्मन के इलाके में हमला करने में सक्षम है। गत 19 दिसंबर को पिनाका का 75 किलोमीटर तक मारक क्षमता का परीक्षण किया गया था। इस साल मार्च में राजस्थान के पोखरण रेंज में मिसाइल के दो परीक्षण किया गए थे।

ओडिशा के चांदीपुर परीक्षण केंद्र से गुरुवार को रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन (डीआरडीओ) ने संयुक्त रूप से उन्नत संस्करण के पिनाका राकेट का दोपहर 12:05 बजे सफलता पूर्वक परीक्षण किया। इससे पहले पिनाका में गाइड लाइन सिस्टम नहीं था। अब इसे और उन्नत कर गाइड लाइन सिस्टम से लैस किया गया है। हैदराबाद स्थित रिसर्च सेंटर ने नौवहन दिशा निर्देशन एवं नियंत्रण किट विकसित किया है।

सूत्रों की माने तो इस बदलाव से पिनाका की मारक क्षमता और सटीकता दोनों बढ़ गई है। पहले इसकी मारक क्षमता 40 किमी थी जो अब बढ़कर 70 किमी हो गई है। चांदीपुर के रक्षा क्षेत्र में रडार इलेक्ट्रो आप्टिकल सिस्टम, टेलीमेट्री सिस्टम ने पिनाका राकेट के पूरे मार्ग की निगरानी की गई। पिनाका को पुणे के अपार्टमेंट रिसर्च एंड डेवलेपमेंट स्टैब्लिसमेंट, और हैदराबाद के डिफेंस रिसर्च एंड डेवलेपमेंट लेब्रोटरी ने मिलकर तैयार किया है।

इस राकेट के परीक्षण के मौके पर रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन तथा अंतरिम परीक्षण परिसर (आइटीआर) से जुड़े वरिष्ठ अधिकारी व वैज्ञानिक दल मौजूद था। सूत्रों की माने तो इस महीने के अंत तक और कई राकेट व मिसाइल का परीक्षण होने की संभावना है।

ओडिशा की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस