Move to Jagran APP

बोर्ड के एकतरफा निर्णय पर छात्र, शिक्षक, अभिभावक ने जताया विरोध: 8 दिसंबर को घेराव की चेतावनी

ओडिशा में यानी बोर्ड द्वारा परीक्षा और मूल्यांकन संबंधित निर्णय को लेकर छात्र शिक्षक अभिभावक ने असंतोष व्‍यक्‍त किया है। इसमें ओस्टा के साथ-साथ विभिन्न छात्र संगठन शिक्षाविद अभिभावक संघ के कार्यकर्ता शामिल होकर बोर्ड की मनमानी और एकतरफा निर्णय को कड़े तौर पर विरोध किया है।

By Babita KashyapEdited By: Published: Mon, 29 Nov 2021 02:06 PM (IST)Updated: Mon, 29 Nov 2021 02:06 PM (IST)
बोर्ड के एकतरफा निर्णय पर छात्र, शिक्षक, अभिभावक ने जताया विरोध: 8 दिसंबर को घेराव की चेतावनी
परीक्षा और मूल्यांकन संबंधित निर्णय को लेकर छात्र, शिक्षक, अभिभावक आदि ने असंतोष जताया है

भुवनेश्‍वर, जागरण संवाददाता। माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी बोर्ड द्वारा परीक्षा और मूल्यांकन संबंधित निर्णय को लेकर छात्र, शिक्षक, अभिभावक आदि ने असंतोष जताया है। एकतरफा निर्णय लेने से पहले बोर्ड को सब के साथ इस बारे में चर्चा किया जाना चाहिए था। छुट्टी और त्योहारों के दिन परीक्षा करने के लिए बोर्ड की ओर से ली जाने वाली निर्णय को अधिकारी तुरंत वापस लें। इसके अलावा विद्यालयों की स्थाई स्वीकृति के लिए व्यवस्था की जाए।

loksabha election banner

कोरोना के समय स्‍थायी स्वीकृति के लिए विद्यालय के ऊपर लगाए होने वाली राशि को बोर्ड तुरंत वापस लें। राज्य के छात्र, शिक्षक,अभिभावक को लेकर तैयार मिलित मंच (संयुक्त मंच) की ओर से बोर्ड को सलाह दी गई है। अगर ऐसा नहीं किया गया तो, आगामी 8 तारीख को बोर्ड कार्यालय के साथ-साथ तमाम जोन कार्यालय के सामने प्रदर्शन की जाने के लिए मीलित मंच की ओर से चेतावनी दी गई है। माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी बोर्ड की एकतरफा निर्णय का विरोध कर ओड़ीसा माध्यमिक स्कूल शिक्षक संघ यानी ओस्टा कि नयसड़क में मौजूद कार्यालय में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में यह निर्णय ली गई है। इसमें ओस्टा के साथ-साथ विभिन्न छात्र संगठन, शिक्षाविद,अभिभावक संघ के कार्यकर्ता शामिल होकर बोर्ड की मनमानी और एकतरफा निर्णय को कड़े तौर पर विरोध किया है।

रविवार अपराह्न को ओस्टा कार्यालय परिसर में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में ओस्टा के महासचिव प्रकाश चंद्र मोहंती,अध्यक्ष विनोद बिहारी पाणिग्रही, कार्यवाहक अध्यक्ष भीकारी चरण साहू, संयुक्त महासचिव रंजन कुमार दास, कोषाध्यक्ष अशोक कुमार महापात्र, शिक्षा प्रदीप के सचिव शंकर कुमार सुबुद्धि, अखिल भारतीय छात्र संघ की ओर से संघमित्रा जेना, दिनेश रंजन ,भारतीय छात्र फेडरेशन के विप्लव कुमार,अनुराधा बेहेरा, एआईडीएसओ की ओर से अध्यक्ष गणेश त्रिपाठी,विनोद सेठी, तरुणसेन नायक, शिवानी साहू,सरोज मानसिंह, अभिभावक संघ की ओर से बासुदेव भट्ट, प्रसन्न बिसोई, अखिल भारतीय अभिभावक संघ की ओर से प्रदीप्त नायक,शिक्षाविद वासुदेव छाटोई, अमिय मोहंती, सुरेंद्र जेना, सत्यकाम मिश्र, निमाइं चरण स्वाइं प्रमुख इस पत्रकार सम्मेलन में शामिल थे। बोर्ड की इस तरह की कार्य व मनमानी के बारे में मुख्यमंत्री एवं गण शिक्षा मंत्री अवगत हो कर हस्तक्षेप करने के लिए भी मिलीत मंच की ओर से मांग की गई है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.