Move to Jagran APP

Odisha: माझी कैबिनेट के 5 बड़े फैसले- श्रमिकों की मजदूरी बढ़ाई, 18 हजार से अधि‍क शिक्षकों की नियुक्ति को मंजूरी; पढ़ें अपडेट

Odisha Cabinet Meeting मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी के नेतृत्व में बुधवार को कैबिनेट की बैठक हुई। इसमें पांच महत्वपूर्ण निर्णय पर मुहर लगी। अब श्रमिकों के सर्वनिम्न दैनिक मजदूरी बढ़ाने के प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दी है। ओड़िआ अस्मिता के लिए 200 करोड़ रुपये कोष की व्यवस्था की गई है। वहीं अस्थाई जल सिंचाई विभाग परियोजना के 2065 खराब पड़े प्रोजेक्ट को ठीक करने का निर्णय लिया गया है।

By Sheshnath Rai Edited By: Prateek Jain Wed, 10 Jul 2024 08:28 PM (IST)
कैबिनेट बैठक करते मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी।

जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर। मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी के नेतृत्व में बुधवार को हुई कैबिनेट बैठक में पांच महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। इसमें श्रमिकों के सर्वनिम्न दैनिक मजदूरी बढ़ाने के प्रस्ताव को कैबिनेट ने अपनी मुहर लगा दी है।

गैरकुशल, कुशल एवं उच्च कुशल श्रमिकों की मजदूरी को सरकार ने बढ़ाया है। गैर कुशल श्रमिकों की मजदूरी 352 रुपये से 450 रुपया कर दिया गया है। उसी तरह कुशल श्रमिकों की मजदूरी 392 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये एवं उच्च कुशल श्रमि‍कों की मजदूरी 502 रुपये से बढ़ाकर 600 रुपये कर दी गई है।

इसके साथ ही कैबिनेट ने ओड़िआ अस्मिता के लिए 200 करोड़ रुपये कोष की व्यवस्था की गई है।ओड़िआ अस्मिता भवन निर्माण, ओड़िआ अनुवाद एकेडमी प्रतिष्ठा करने का निर्णय लिया गया है।

18 हजार 788 शिक्षकों की नियुक्ति का निर्देश

तालपत्र पोथी संग्रहालय, विभिन्न यूनिवर्सिटी में ओड़िआ चेयर स्थापित करने पर कैबिनेट ने अपनी मुहर लगायी है। बालीयात्रा को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता दिलाने के लिए सरकार प्रयास करेगी।

जनशिक्षा विभाग के राज्य में प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय में 20 हजार शिक्षक नियुक्ति के लिए विज्ञप्ति प्रकाशित की गई थी। उच्च न्यायालय ने निर्देश दिया था। कैबिनेट ने 18 हजार 788 शिक्षकों को नियुक्ति के लिए निर्देश दिया है।

इसके साथ ही मोहन कैबिनेट ने अस्थाई जल सिंचाई विभाग परियोजना के 2065 खराब पड़े प्रोजेक्ट को ठीक करने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए 5 वर्ष के अंदर 1 हजार 44 करोड़ 84 लाख रुपया सरकार खर्च करेगी।

6 लाख किसान पीएम किसान योजना में होंगे शामिल

पीएम किसान योजना से वंचित पड़े हित धारकों को को योजना में शामिल किया जाएगा। सभी किसानों को पीएम किसान योजना में शामिल करने का निर्णय लिया गया है।

लघु, मध्यम एवं बड़े किसान तथा शहर में रहने वाले योग्य किसानों को पीएम किसान योजना में शामिल किया जाएगा। 5 लाख से 6 लाख तक योग्य थे, परन्तु कालिया योजना से वंचित थे, जिन्हें पीएम किसान योजना में शामिल किया जाएगा। 6 लाख किसान इसमें शामिल होंगे और इन्हें आगामी किश्त में मदद मिलेगी।

मोहन चरण माझी कैबिनेट के पांच महत्वपूर्ण निर्णय

  1. ओडिशा में अकुशल मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी 392 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये प्रति दिन कर दी गई है। कुशल श्रमिकों के लिए प्रति दिन 502 रुपये से 600 रुपये कर दी गई है।
  2. कैबिनेट ने 18, 788 शिक्षकों की नियुक्ति को मंजूरी दी है।
  3. एशिया के सबसे बड़े ओपन एयर मेला जो कटक में बालीजात्रा है, को अंतरराष्ट्रीय मान्यता मिलनी चाहिए, इसके लिए एक प्रस्ताव केन्द्र सरकार को जल्द से जल्द भेजा जाएगा, जिसे ओडिशा में कैबिनेट प्रस्तावों में शामिल किया गया है।
  4. ओड़ि‍या अस्मिता के लिए 200 करोड़ रुपये का कोष आवंटित किया गया है। एक ओड़िया अस्मिता भवन की स्थापना की जाएगी। एक ओड़ि‍या अनुवाद अकादमी की स्थापना की जाएगी।
  5. एक तालपत्र पोथी संग्रहालय स्थापित करने को कैबिनेट ने निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें -

Odisha: माझी बोले- आप लोगों ने 300 रुपये दक्ष‍िणा पाने वाले शिक्षक को CM बनाया, घोषणापत्र का एक-एक वादा करेंगे पूरा

Odisha News: सुंदरगढ़ में हाईवा की टक्कर से स्कॉर्पियो के उड़े परखच्‍चे, बच्‍चों समेत तीन की मौत; दो गंभीर