भुवनेश्वर, जेएनएन। प्रदेश की राजनीति में अब तक निर्विवाद रहे नवीन पटनायक ने दलीय छवि सुधारने के लिए नेताओं को आम जनता से जुड़ने को कहा है। मुख्यमंत्री सह दल प्रमुख नवीन पटनायक द्वारा बीजेपुर विधानसभा सीट छोड़ने के कारण वहां उप-चुनाव कराए जाएंगे। साथ ही नगर निकायों के चुनाव भी सिर पर हैं। 

ऐसे में बीजू जनता दल अपनी पकड़ बनाए रखने की भरपूर कोशिश में लग गया है। मुख्यमंत्री पटनायक ने चुनाव में पराजित हुए नेताओं के प्रति उदासीन रवैया अपनाया हुआ है। हाल के दिनों में बीजद के 24 नेताओं को विभिन्न निगमों, संस्थाओं में मुखिया बनाकर भेजा तो लेकिन इनमें कोई ऐसा नहीं था जो पिछले चुनाव में हार गया हो। ऐसा करके नवीन पटनायक ने परोक्ष में संदेश दिया है कि जनाधार खोने वाले

नेताओं को पार्टी में ज्यादा तवज्जो नहीं दी जाएगी। हाल ही में मुख्यमंत्री ने 5-टी का मंत्र देते हुए सरकारी योजनाओं का लाभ आम जनता तक पहुंचाने पर जोर दिया है।

लोकप्रियता के मामले में नवीन पटनायक के सामने विरोधी दल का कोई नेता नहीं ठहरता जिसका सीधा लाभ बीजू जनता दल को ले रहा है। मगर फिर भी जिस तरह से भाजपा प्रदेश में अपने पैर पसार रही है और पिछले पंचायत चुनावों में पार्टी ने बेहतर प्रदर्शन किया था उससे बीजद घबराया हुआ जरूर है। अत: अब पंचायत चुनावों से पहले बीजू जनता दल अपनी साख बनाए रखने पर जोर दे रहा है। 

ओडिशा की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस