भुवनेश्वर, जेएनएन। ममिता मेहेर के परिवार को न्याय दिलाने की मांग में कांग्रेस ने [आज] 12 नवम्बर को ओड़िशा बंद का आह्वान किया है। शिक्षिका ममिता मेहेर हत्याकांड मामले में परिवार को न्याय दिलाने की मांग में कांग्रेस की तरफ आज सुबह 6 बजे से प्रदेश भर में शुरू किए गए हड़ताल का मिला-जुला असर देखने को मिला है। पुलिस प्रशासन की मुश्तैदी के कारण राजधानी भुवनेश्वर में तमाम दुकान बाजार खुले नजर आए। इसके साथ ही आवागमन व्यवस्था भी पहले ही की तरह स्वभाविक दिखी। हालांकि कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक सुरेश राउतराय ने कहा है कि हड़ताल को लोगों का समर्थन मिल रहा है। बंद पूरी तरह से सफल है।

आज सुबह सुबह विधायक सुरेश राउतराय, पूर्व पीसीसी अध्यक्ष जयदेव जेना, छात्र कांग्रेस अध्यक्ष यासिर नवाज के नेतृत्व में कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता राजधानी भुवनेश्वर स्थित मास्टर कैंटीन चौक को अवरोध कर विरोध प्रदर्शन किया है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयदेव जेना ने कहा है कि आज के आन्दोलन का प्रभाव पड़ा है। लोगों का समर्थन मिला है। आन्दोलन को प्रभावहीन करने के लिए बीजद सरकार ने षडयंत्र रचा है। बीजद कांग्रेस से डर रही है। मंत्री दिव्य शंकर मिश्र को जब तक गिरफ्तार नहीं किया जाता हमारा आन्दोलन जारी रहेगा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष निरंजन पटनायक के आह्वान पर बंद को शांतिपूर्ण ढंग से पालन किया जा रहा है। आपातकालीन सेवा, छात्रों को परीक्षा के लिए जाने की अनुमति दी गई है।

यहां उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के बंद पालन पर हाईकोर्ट ने कहा था कि राजनीतिक दल विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं, मगर किसी के व्यक्तिगत स्वतंत्रता को नहीं छीन सकते हैं। मोटरवाहन यातायात को बंद करना भी गैरकानूनी है। हड़ताल के दौरान किसी भी वाहन को जबरन नहीं रोका जा सकता है। रेल एवं हवाई सेवा को भी प्रभावित नहीं कर सकेंगे। इतना ही किसी भी व्यवसायिक प्रतिष्ठान को भी जबरन नहीं बंद करवा सकते हैं। विरोध प्रदर्शन के दौरान यदि किसी भी जगह पर बल पूर्वक दुकान बाजार, परिवहन सेवा बंद की गई तो फिर पुलिस को कानून के हिसाब से कार्रवाई करने के लिए हाईकोर्ट ने निर्देश दिया है।

प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष देवाशीष पटनायक ने कहा है कि ओड़िशा में महिलाओं पर अत्याचार बढ़ रहा है। राज्य सरकार अंधे धृतराष्ट की तरह सब कुछ जानकर चुप बैठी है। इसके प्रतिवाद में कांग्रेस की तरफ से 6 घंटे बंद पालन करने का ऐलान किया गया है। शिक्षिका ममिता मेहेर हत्या मामले में गृहराज्य मंत्री दिव्यशंकर मिश्र को बर्खास्त करने एवं ममिता के परिवार को न्याय दिलाने की मांग में कांग्रेस ने पहले 12 घंटे तक बंद पालन की घोषणा किया था, मगर अचानक इसे अब 6 घंटे कर दिया है, जिसको लेकर राजनीतिक चर्चा हो रही है।

वहीं, कांग्रेस के आह्वान का समर्थन करते हुए बरगढ़ जिला कांग्रेस अध्यक्ष निहार रंजन महानंद ने बरगढ़ जिले को सम्पूर्ण बंद करने के लिए लोगों से अनुरोध किया है। उन्होंने लोगों से सुबह 6 से 12 बजे तक बंद का पूरा समर्थन करने को कहा है।

प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी के अनुसार गोविन्द कुम्हार की हाजत में मृत्यु की घटना एवं ममिता मेहेर हत्याकांड में राज्य सरकार के मंत्री को सुरक्षा दिये जाने के विरोध एवं सुरक्षा देने वाले मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर 12 नवंबर को ओडिशा में सुबह 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक छह घंटे के लिये बंद का आह्वान किया गया है। 

Edited By: Priti Jha