भुवनेश्वर, जेएनएन। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मास्क पहनने को प्राथमिकता दी जा रही है। घर से बाहर निकलने पर मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। यहां तक कि मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना वसूलने के लिए भी राज्य सरकार ने प्रशासन को सख्त निर्देश दिया है। सरकार के इस निर्णय का  पेट्रोलियम डीलर संघ समर्थन करते हुए मास्क न पहनने वालों को पेट्रोल या डीजल ना देने का निर्णय लिया है। संघ की तरफ से स्पष्ट किया गया है जो भी व्यक्ति बिना मास्क पहने पेट्रोल डीजल लेने आएगा उसे पेट्रोल या डीजल नहीं दिया जाएगा।

पेट्रोल पंप कर्मचारी एवं ग्राहकों के हित को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिए जाने की जानकारी पेट्रोलियम डीलर संघ के महासचिव संजय लाठ ने दी है। संजय लाठ ने कहा कि सरकार ने कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए यह कदम उठाया है और सरकार के निर्णय का अनुपालन करना, लोगों को इसके प्रति सतर्क करना हम सबका कर्तव्य है। ऐसे में संघ ने निर्णय लिया है कि ऐसे किसी भी व्यक्ति को हम पेट्रोल, डीजल ना देने का निर्णय लिए जो बिना मास्क पहने पेट्रोल पंप पर जाएगा। 

विशेष विमान से भुवनेश्वर पहुंची कोविड-19 टेस्ट किट

कोविड-19 टेस्ट किट भुवनेश्वर पहुंच गई है। एक विशेष कारगो विमान के जरिए महाराष्ट्र के पुणे स्थित माइ  लेबोरेटरी से यह किट भुवनेश्वर एयरपोर्ट पर पहुंचा है। इसके जरिए 4 हजार कोविड-19 टेस्ट हो सकेगा। कोविड-19 टेस्टिंग किट के साथ आरएनए एक्सट्रांस किट, पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेंट्स पीपीइ एवं वीटीएम जैसी अनेकों सामग्री आकर यहां पहुंची है। ओडिशा राज्य दवा निगम के प्रयास से ये सभी किट ठीक समय पर भुवनेश्वर पहुंच गई है। 

गौरतलब है कि राज्य में 48 कोरोना मरीज की पहचान हुई है, जिसमें से 6 मरीजों की पहचान तो वीरवारको ही हुई है। प्रदेश में अब तक दो मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं ए​वं एक मरीज की मौत हो गई है। इस तरह से प्रदेश के विभिन्न कोविड अस्पताल में कुल 45 मरीजों का इलाज चल रहा है।

 महाराष्ट्र गृह विभाग ने दिया मुंबई-पुणे की पांच जेलों को बंद करने का आदेश

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस