मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

भुवनेश्वर, जेएनएन। किसी न किसी कारण से अक्सर चर्चा में रहने वाले तत्व प्रकाश सत्पथी उर्फ पप्पू पमपम की आने वाली फिल्म, मिस्टर कन्हैया के विवादित पोस्टर पर हंगामा जारी है। बढ़ते हंगामे और महिलाओं के असम्मान को लेकर मामला थाना पहुंच जाने के बाद पप्पू पमपम ने सफाई दी है। पमपम ने कहा कि उनके मन में महिलाओं के प्रति सम्मान है और किसी की भावना को ठेस पहुंचाना वह कतई नहीं चाहते हैं।

पमपम ने कहा कि फिल्म के पोस्टर में सात युवतियों के साथ उनकी फोटो को जिस तरह से दर्शाया गया है उसमें मेरी कोई भूमिका नहीं है। पोस्टर सिद्धार्थ म्यूजिक कंपनी वालों ने तैयार किया है। लगता है एक कॉलेज में शूटिंग के समय किसी ने फोटो उठाकर सोशल मीडिया में वाइरल किया है। पप्पू पमपम ने माना कि फिल्म के प्रमोशन के लिए मैने अपने व्हाटसअप स्टेट्स में रखा हुआ था। मगर विवाद होने के बाद से मैने व्हाट्सअप स्टेट्स से उसे हटा लिया है। सिद्धार्थ म्यूजिक कंपनी ने भी इस पोस्टर से खुद को अलग कर लिया है। कंपनी की ओर से स्पष्ट किया गया है कि पोस्टर हमने नहीं बनाया है किसी और ने पोस्टर बनाकर लोगों में भ्रांति फैलाने का काम किया है। उल्लेखनीय है कि विवादित पोस्टर में पप्पू पमपम को सात युवतियों के गले में रस्सी डालकर हांकते हुए दिखाया गया है। फिल्म का टाइटल नीचे लिखा है, मिस्टर कन्हैया। इस पोस्टर को लेकर लोगों में जबर्दस्त गुस्सा है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप