जासं, भुवनेश्वर : सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई यूटिलिटी ऑफ ओडिशा (सेसू) के बाद अब बिजली वितरक कंपनी नेस्को एवं साउथको भी बिल वसूली पर फोकस करेगी। एक पत्रकार सम्मेलन के जरिए नेस्को के अधिकारियों ने कहा कि 18 लाख 72 हजार उपभोक्ताओं में से 10 लाख 81 हजार उपभोक्ताओं के ऊपर करीबन 1500 करोड़ रुपये का बिजली बिल बकाया है। 39 हजार व्यवसायिक प्रतिष्ठान के ऊपर 95 करोड़ रुपये एवं 1962 उद्योगों पर 305 करोड़ रुपये का बिजली बिल बकाया पड़ा है। ऐसे में दो फरवरी से बकाया बिल के लिए लोगों के पास नेस्को नोटिस भेजेगी। नोटिस के 15 दिन के अंदर बिल जमा नहीं की गई तो 18 फरवरी से बिजली संयोग को काट दिया जाएगा।

उसी तरह से साउथको कंपनी ने भी बिजली संयोग काटने का निर्णय लिया है। बरहमपुर में प्रेस विज्ञप्ति जारी कर उपभोक्ताओं को चेतावनी दी गई है कि बकाया बिल जमा कर दें, अन्यथा उनके बिजली संयोग को काट दिया जाएगा। साउथको कंपनी का 1 हजार 374 करोड़ रुपया उपभोक्ताओं पर बकाया है। 15 फरवरी तक बिजली बिल जमा नहीं करने वालों का कनेक्शन काटने का निर्णय साउथको ने लिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस