जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : नेशनल एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (नालको) ने 1102 करोड़ का रिकार्ड लाभांश घोषित करके शेयर बाजार में एक बार फिर धूम मचा दी है। कंपनी का वित्त वर्ष 2017-18 में शुद्ध मुनाफा पिछले साल के 669 करोड़ से बढ़कर 1342 करोड़ रुपये पहुंच गया है। कंपनी के चेयरपर्सन सह प्रबंध निदेशक (सीएमडी) तपन कुमार चांद ने 37वीं वाíषक बैठक में यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि कंपनी ने वर्ष 2017-18 में इसके पिछले वित्त वर्ष के 669 करोड़ रुपये की तुलना में 1342 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा कमाया जो कि पिछले 10 वर्ष का सर्वाधिक है।

उन्होंने ने कहा कि नालको का कारोबार 26 प्रतिशत बढ़कर 9376 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है जो कि इसके गठन के बाद से अब तक का सर्वाधिक है। इसी तरह निर्यात में प्राप्त आय भी 12 प्रतिशत बढ़कर 4076 करोड़ तक पहुंच गई है। नालको इस समय शुद्ध विदेशी विनियम आय के मामले में तीसरी सबसे बड़ी केंद्रीय सार्वजनिक कंपनी है। डॉ. चांद ने इस सफलता का श्रेय टीम की तरह काम, लागत पर ध्यान और रणनीतिक नियोजन को दिया। कहा कि नालको की नई व्यवसाय योजना ने कंपनी को विकास के पथ पर अग्रसर किया है। इसके परिणाम मिलने आरंभ हो गए हैं। कंपनी द्वारा अपनाए गए विकासोन्मुखी कदम हमारे शेयरधारकों के प्रति वचनबद्धता के फलवस्वरूप यह रिकार्ड लाभांश का भुगतान किया गया है।

Posted By: Jagran