Move to Jagran APP

ओडिशा में भजन गाते मंच पर गिरे अतिरिक्त जिलाधीश, मौके पर ही मौत; मुख्यमंत्री ने जताया शोक

Ganjam News ओडिशा के गंजाम से दर्दनाक खबर सामने आई है जहां सरकारी अधिकारियों के मिलन कार्यक्रम में गीत गाते अतिरिक्त जिलाधीश मंच पर गिर पड़े जिससे उनकी मौत हो गई। घटना बुधवार शाम की है। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने इस घटना पर दुख जताया है।

By Sheshnath Rai Edited By: Shashank Shekhar Thu, 11 Jul 2024 06:13 PM (IST)
अतिरिक्त जिलाधीश की मौत पर सीएम मोहन ने जताया शोक। प्रतीकात्मक तस्वीर

जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर। आज के समय में पूरी तरह से स्वस्थ दिखने वाले आदमी का भी दिल कब धोखा दे दे कहा नहीं जा सकता है। कसरत और डांस के दौरान के साथ ही मंच पर गीत गाते के समय आदमी की हार्ट अटैक से मौत की खबरें आती रहीं हैं।

इसी कड़ी में ओडिशा के गजपति जिले में सरकारी अधिकारियों के मिलन कार्यक्रम में भजन गाने के दौरान अतिरिक्त जिलाधीश ( एडीएम, राजस्व) वीरेन्द्र कुमार दास की मौत की खबर आई है। वह मंच पर भजन गाने के दौरान बेहोश होकर गिर पड़े और मृत्यु हो गई। यह घटना बुधवार शाम में घटी, जिसका वीडियो क्लिप इं‍टरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

बेहोश होकर मंच पर गिर पड़े

गजपति के जिलाधिकारी स्मृति रंजन प्रधान ने कहा कि एडीएम भजन गाते हुए अचानक बेहोश होकर गिर गए। उन्हें एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां पता चला कि उनका रक्तचाप बहुत अधिक है। प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बरहामपुर एमकेसीजी मेडिकल कालेज एवं अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

जानकारी के अनुसार, ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद पारलाखेमुंडी वृंदावन पैलेस परिसर में जिला प्रशासन के सभी अधिकारी और कर्मचारियों का एक बंधुमिलन समारोह आयोजित किया गया था। इस दौरान एडीएम वीरेन्द्र कुमार दास मंच पर गए और उड़िया भक्ति गीत गाने लगे। इसी दौरान बेहोश होकर मंच पर गिर पड़े। बाद में उनकी मौत हो गई।

मुख्यमंत्री मोहन चरण ने जताया दुख

चिकित्सकों के अनुसार, उन्हें दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। गजपति जिला के अतिरिक्त जिलाधीश वीरेन्द्र कुमार दास के निधन पर मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने गहरा शोक प्रकट किया है।

मुख्यमंत्री ने एक्स हैंडल पर लिखा है- दिवंगत दास एक ईमानदार और जिम्मेदार अधिकारी थे। वह लोगों के हित के लिए सदैव काम करते थे। उनके पास उच्चकोटि की प्रशासनिक क्षमता थी। उनके निधन से राज्य सरकार ने एक कुशल अधिकारी को खो दिया है। मुख्यमंत्री ने दास की आत्मा की सद्गति के लिए प्रार्थना की है और शोकाकुल परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है।

ये भी पढ़ें- 

महिलाओं और पुरुषों में अलग हो सकते हैं Heart Attack के लक्षण, वक्त पर इलाज से बचाई जा सकती है जान

हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में मदद करता है Good Cholesterol, इन तरीकों से बढ़ाएं इसका लेवल