वाशिंगटन। अमेरिका ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि एशिया में वह क्रीमिया सरीखी कार्रवाई करने की न सोचे। अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अपने एशियाई सहयोगियों की रक्षा के लिए अमेरिका की प्रतिबद्धता के प्रति बीजिंग को संदेह नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि आर्थिक प्रतिबंध भी चीन को एशिया में रूस की क्रीमिया जैसी कार्रवाई करने से रोकेंगे।

पूर्वी एशिया के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के खास कूटनीतिज्ञ माने जाने वाले डैनियल रसेल ने कहा कि चीन के इरादों को भांपना मुश्किल है लेकिन रूस के क्रीमिया को अपने देश में शामिल करने के बाद एशिया में अमेरिका के सहयोगी राष्ट्रों को चीन की ओर से ऐसी कार्रवाई का डर सता रहा है।

अमेरिका के पूर्वी एशिया मामलों के सहायक सचिव डैनियल रसेल ने विदेशी मामलों की सीनेट समिति को बताया, 'मतलब यह है कि चीन पर और अधिक दबाव डालने की जरूरत है ताकि वह समस्याओं के समाधान के लिए शांतिपूर्ण तरीके पर कायम रहे।' उन्होंने कहा कि क्रीमिया को देश में शामिल करने की सजा के तौर पर रूस के ऊपर अमेरिका और यूरोपीय संघ की ओर से लगाए गए आर्थिक प्रतिबंध चीन में ऐसा करने की सोचने वालों के लिए कड़ा संदेश हैं।

पढ़ें : पुतिन ने क्रीमिया पर की मनमोहन सिंह से बात

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस