जिनेवा। चीन के मानवाधिकार रिकॉर्ड की जांच के लिए बुलाए गए सत्र से पहले यहां संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय की निर्माणाधीन इमारत पर चढ़कर तिब्बती प्रदर्शनकारियों ने चीनी प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए। उनके हाथों में बैनर और पोस्टर थे।

पढ़ें: भारतीय युवक ने जीता प्रतिष्ठित यूएन पुरस्कार

रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार की सुबह 'स्टूडेंट फॉर ए फ्री तिब्बत' के तीन प्रदर्शनकारी संयुक्त राष्ट्र की निर्माणाधीन इमारत पैलेस द नेशंस (पैलेस ऑफ नेशंस) पर चढ़ गए और बैनर दिखाने लगे, जिस पर 'चाइना ह्यूंमन राइट्स : यूएन स्टैंड अप ऑन तिब्बत यानि संयुक्त राष्ट्र तिब्बत के मानवाधिकार के लिए खड़े हो जाओ' लिखा था। संयुक्त राष्ट्र की ओर से इस पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। वहीं चीन की सरकार ने मंगलवार को श्वेत पत्र जारी करते हुए स्पष्ट कर दिया है कि बीजिंग तिब्बत पर अपनी नीति में कोई बदलाव नहीं करने जा रहा है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस