सीतामढ़ी। नानपुर थाना क्षेत्र के शरिफपुर गांव में पिकअप की ठोकर से जख्मी महिला की मौत इलाज के दौरान हो जाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने मंगलवार को रुन्नीसैदपुर- पुपरी मुख्य पथ पर शव को रख कर हंगामा किया। शरीफपुर विद्यालय के सामने बांस - बल्ला लगाकर सड़क को जाम कर दिया तथा सड़क पर टायर जलाकर घंटों आगजनी की। इस कारण घंटों आवागमन बाधित रहा। मृतक महिला शरीफपुर गांव के स्व. बौधु पंडित की पत्नी चुलिया देवी थी। घटना की जानकारी मिलते ही नानपुर पुलिस के सअनि आरपी यादव पुलिस बल के साथ पहुंचे तथा लोगों को शांत कर आवागमन बहाल करना चाहा लेकिन सफलता नहीं मिली। वही, पूर्व मुखिया बाबर अली व समाजसेवी हयातुस सालेहीन उर्फ मुन्ना पहुंचे। आक्रोशित लोग घटना में शामिल पिककप को जब्त करने व चालक को गिरफ्तार करने के साथ मृतक के परिवार को उचित मुआवजा देने पर अडिग थे। पुपरी एसडीओ नवीन कुमार द्वारा फोन पर उचित मुआवजा मिलने व घटना में शामिल पिककप के विरुद्ध कार्रवाई करने के आश्वासन पर जाम समाप्त हुआ। उसके बाद आवागमन सुचारू रूप से बहाल हो पाया। इस दौरान लगभग दो घंटे सड़क जाम रहा। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतका के पुत्र पवन कुमार ने पुलिस को आवेदन दिया है। जिसमें बताया है कि मेरी मां चुलिया देवी रविवार की शाम सड़क किनारे खड़ी थी। इसी बीच अनियंत्रित पिकअप बीआर 06 जीबी 5335 ने मेरी मां को ठोकर मारकर भाग निकला। चिताजनक स्थिति को देखते हुए मुजफ्फरपुर में निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान मौत हो गई।

Edited By: Jagran