बरेली में तीन माह से स्नातक प्रथम सत्र के परीक्षा परिणाम का इंतजार

जागरण संवाददाता, बरेली : प्रोग्रामर और एजेंसी के बीच मतभेद का असर रुहेलखंड विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों की पढ़ाई पर पड़ रहा है। दरअसल, रुहेलखंड विश्वविद्यालय की स्नातक प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा समाप्त हुए तीन माह का समय हो गया है, लेकिन परिणाम अभी तक जारी नहीं हुआ है। इससे विद्यार्थी परेशान हो रहे हैं। विवि के अधिकारियों का कहना है कि अगले सप्ताह तक परिणाम जारी हो सकता है। विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में स्नातक प्रथम सत्र में करीब एक लाख अभ्यर्थी हैं। सभी की परीक्षाएं अप्रैल माह से हुई थीं। तीन माह से अधिक का समय बीतने के बावजूद अभी तक परिणाम जारी नहीं किये गए। विद्यार्थियों का कहना है कि वह परिणाम की जानकारी के लिए महाविद्यालयों व विश्वविद्यालय का चक्कर लगा रहे हैं और विवि की हेल्पलाइन नंबर पर काल कर रहे हैं, लेकिन कहीं से भी संतोषजनक उत्तर उन्हें नहीं मिल रहा है। एजेंसी की लापरवाही से हो रहा विलंब स्नातक परीक्षा प्रथम सत्र का परिणाम जारी होने में देरी की वजह एजेंसी की लापरवाही के साथ ही मेजर व माइनर सब्जेक्ट को लेकर सहमति न बनना है। इसके साथ ही एजेंसी व प्रोग्रामर के बीच मतभेद के चलते भी देरी हो रही है। दूसरा सत्र हो रहा प्रभावित रुविवि ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 में नई शिक्षा नीति के तहत ही स्नातक प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश लिए थे। विवि ने पहले सेमेस्टर की परीक्षा अप्रैल माह में पूरी कर ली थी। विवि स्तर पर परीक्षा परिणाम जारी न होने से छात्रों का दूसरा सेमेस्टर की कक्षाएं संचालित नहीं हो रही है। यही नहीं कक्षाओं का संचालन न होने से छात्रों को पाठ्यक्रम की भी जानकारी नहीं हो सकी। वर्जन स्नातक प्रथम सत्र का मूल्यांकन पूरा होने के साथ ही रिजल्ट भी लगभग तैयार हो गया है। जल्द ही परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा। - डा. अमित सिंह, मीडिया प्रभारी

Edited By: Jagran