जागरण संवाददाता, नंगल। Punjab Crime: उपमंडल के गांव पस्सीवाल में शनिवार दोपहर गांव में पहुंचे यूपी नंबर कार में सवार लोगों को गांव वासियों ने पकड़ कर खूब धुनाई की। गांव वासियों के अनुसार यह लोग उसी ग्रुप के हैं जो पिछले दिनों गांव में ही पशु तस्करी में संलिप्‍त पाए गए थे। गांव के एक युवक ने पिछले दिनों पशु तस्करी के विरुद्ध सक्रियता दिखाते हुए पुलिस प्रशासन की मदद भी की थी यह उसी युवक के घर पहुंचे हुए थे। पुलिस को दिए बयानों में गोपी नामक युवक ने बताया कि आई टवेंटी कार नंबर यूपी 11बीजे-0634 में सवार लोग उसके घर के अंदर आ गए। ये सभी हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के देहरा के आसपास गांवों के रहने वाले हैं।

बकायदा सीसीटीवी में आ रहे फुटेज को देखने के बाद जब वे उनके पास पहुंचकर अंदर आने का कारण पूछने लगा तो उन्‍होंने लड़ना शुरू कर दिया। इस दौरान उसने परिवार के लोगों के माध्‍यम से गांववासियों को सूचित किया गया तब जाकर तीन युवकों को दबोचा गया। गोपी ने बताया कि उन्हें इन लोगों से खतरा है। किसी भी समय उन्हें जान से मार सकते हैं। इसलिए पुलिस प्रशासन जल्‍द उसे सुरक्षा प्रदान करे। हालात काफी तनावपूर्ण थे।

गुस्साए लोगों ने पकड़े गए युवकों की खूब पिटाई करके उन्‍हें रस्सियों से बांध रखा था ताकि कोई भी भाग ना सके। पुलिस ने युवकों को काबू कर लोगों को भरोसा दिलाया कि गांव में सुरक्षा भी प्रदान की जाएगी। गुस्साए लोगों ने सुरक्षा व कार्रवाई की मांग को लेकर गांव के मुख्य मार्ग पर धरना भी लगाया, लेकिन बाद में पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट होकर धरना हटा दिया ।

गांव के सरदारी लाल शारदा ने कहा कि यह लोग उसी गिरोह के है जो पिछले दिनों गांव में पशुओं से भरा ट्रक पलटा जाने के बाद पशु तस्करी में संलिप्त पाए गए थे। उन्होंने कहा कि लगातार गांव में अपराधिक वारदातें हो रही हैं। ऐसे में यह अंदेशा है कि यही लोग लगातार गांव में आकर दहशत फैला रहे हैं। आज भी हथियारों से लैस कार में सवार युवकों ने गोपी नामक युवक के घर पर आकर रेकी की है, जो कहीं ना कहीं अपराधिक वारदात को अंजाम देने के प्रयास की तरफ इशारा करती है।

नंगल के डीएसपी सतीश कुमार ने बताया कि पुलिस ने मौके पर पहुंच कर तनाव पूर्ण बने हालात को नियंत्रण में कर लिया है। ग्रामीणों की ओर से पकड़ कर पुलिस को सौंपे गए तीन युवकों पर विभिन्‍न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। ये सभी हिमाचल के जिला कांगड़ा के देहरा के आसपास गांवों के रहने वाले हैं।

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट