अलीगढ़, जेएनएन। भले ही कोरोना का संक्रमण काफी हद तक थम गया है लेकिन कोरोना काल अभी खत्म नहीं हुआ है। यूपी बोर्ड परीक्षाएं भी 24 अप्रैल से कराई जानी हैं। अगले एक से दो महीने तक भी कोरोना मुक्त होने की संभावना कम ही है। ऐसे में परीक्षा देने आने वाले हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के विद्यार्थियों के लिए भी सुरक्षा के खास इंतजाम करने के निर्देश बोर्ड की ओर से जारी किए गए हैं। हालांकि कोविड-19 गाइडलाइंस के पालन के साथ परीक्षाएं कराने के निर्देश पहले से ही जारी किए जा चुके हैं। मगर इनके अलावा कुछ विशेष व्यवस्थाएं भी विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्रों पर देखने को मिलेंगी। सबसे ज्यादा विद्यार्थियों को एक जगह एकत्रित न होने देने व साफ-सफाई को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए जा रहे हैं। इन्हीं के जरिए संक्रमण से बचाव भी किया जा सकता है।

24 अप्रैल से बोर्ड की परीक्षाएं

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 24 अप्रैल से शुरू होंगी तो विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्रों पर बदली हुई व्यवस्था व माहौल के बीच परीक्षा देने का अनुभव होगा। पहले जब परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी को प्यास लगती थी तो वो अपनी सीट से उठकर बाहर जाता था और पानी पीकर वापस परीक्षा कक्ष में बैठता था। मगर इस बार 2021 की परीक्षा में ये नहीं होगा। अब अगर किसी भी परीक्षार्थी को प्यास लगेगी तो उसके परीक्षा कक्ष के बाहर ही उसको पीने का पानी पिलाने के लिए एक कर्मचारी बैठा मिलेगा। कक्षा के बाहर ही ड्रम या टंकी में पानी रखा जाएगा। पीने के लिए स्टील या कांच के गिलास नहीं बल्कि कागज के डिस्पोजल ग्लास रखे जाएंगे। जिनको उपयोग करने के बाद कूड़ेदान में फेंक दिया जाएगा। वहीं दूसरी ओर विद्यालय पहुंचने पर केंद्र संचालक की ओर से परीक्षार्थी को हाथ धोने के लिए छोटा सोप केक (छोटा साबुन) भी उपलब्ध कराया जाएगा। परीक्षार्थी जिस कक्षा में जिस फर्नीचर पर बैठेंगे उनको हर पाली के बाद सैनिटाइज करने के निर्देश भी यूपी बोर्ड की ओर से जारी किए गए हैं।

व्यवस्थाओं को हर परीक्षा केंद्र पर परखा जाएगा

डीआइओएस डा. धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि कोविड-19 गाइडलाइंस के पालन के साथ ही परीक्षाएं संपादित कराई जाएंगी। हर विद्यालय में कक्षाओं के बाहर पीने के पानी की व्यवस्था करना अनिवार्य है। इसके साथ ही हर पाली के बाद कक्षाएं व फर्नीचर सैनिटाइज होंगे। हाथ धोने के साबुन भी परीक्षार्थियों को मुहैया होंगे। परीक्षा से पहले निरीक्षण कर इन व्यवस्थाओं को हर परीक्षा केंद्र पर परखा जाएगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप