देवरिया: सदर कोतवाली के औराचौरी गांव के समीप रेलवे ट्रैक के किनारे मिले महिला के शव के मामले में 36 घंटे गुजरने के बाद भी पुलिस अभी खाली हाथ है, घटना का पर्दाफाश तो दूर, अभी तक महिला के शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

एक दिन पूर्व महिला का शव पुलिस ने कीचड़ से बरामद किया था, महिला की गला दबाकर हत्या किए जाने के साक्ष्य मौके से मिले हैं। हालांकि महिला के पास कोई सामान न होने के चलते उसकी शिनाख्त नहीं हो पा रही है। पुलिस ने जिले भर के इंटरनेट मीडिया पर फोटो भी पहचान के लिए वायरल किया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि महिला जिले के बाहर की लग रही है। इसलिए अभी तक इसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है। आसपास के जिलों में भी पुलिस से महिला के शव की शिनाख्त कराने के लिए सहयोग लिया जा रहा है। एसपी डा.श्रीपति मिश्र ने बताया कि टीमें लगी हैं, शव की शिनाख्त जल्द कर घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

सर्विलांस से भी नहीं मिल रहा कोई सहयोग

इस घटना के पर्दाफाश के लिए एसओजी व सर्विलांस के साथ ही कोतवाली पुलिस को लगाया गया है। पुलिस इलेक्ट्रानिक सर्विलांस का सहारा तो ले रही है, लेकिन सड़क व रेलवे लाइन होने के चलते उस क्षेत्र से बड़ी संख्या में लोग गुजरे हैं, इसलिए कोई अहम सुराग अभी तक नहीं लग सका है।

पतंग उड़ाते समय छत से गिरा बालक

देवरिया: बरहज थाना क्षेत्र के ग्राम करजहां में मकर संक्राति के दिन पतंग उड़ाते समय एक बालक छत से गिर कर घायल हो गया। इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। करजहां निवासी नन्हे प्रसाद का नौ साल का बेटा हिमांशु अपने घर के दो मंजिल छत पर पतंग उड़ा रहा था। अचानक वह छत से गिर गया और गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के लिए एक निजी चिकित्सक के यहां स्वजन ले गए, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021