रायबरेली : मां गंगा के आंचल को स्वच्छ करने को रविवार को राजा नेवाज घाट पर सफाई अभियान चलाया गया। कारसेवकों ने घाट पर गंदगी एकत्र किया। जिसे नगर पंचायत कर्मियों ने निस्तारित किया।

तहसीलदार सुबह घाट पर पहुंचे और झाड़ू लगाकर गंगा स्वच्छता का संदेश दिया। अफसर को अपने बीच पाकर गंगा कारसेवकों का उत्साह बढ़ गया। बडा मठ के व्रह्मचारी दिव्यानंद गिरि ने कहा कि कारसेवकों की मेहनत और लगन के कारण घाट स्वच्छ होने लगे हैं। गंगा विचार मंच अवध प्रांत के सह संयोजक योगेंद्र शुक्ल ने कहा कि स्वच्छता के लिए हम सब कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे। तहसीलदार प्रतीत त्रिपाठी ने बताया कि मां गंगा के अविरल प्रवाह के लिए किया जा रहा प्रयास सराहनीय है। मैं जब तक मां गंगा के समीप रहुंगा, तब तक ऐसे पुण्य कार्यों में सहभागिता करता रहूंगा। इसमें सभी को एकजुट होकर सहभागिता करनी चाहिए। गुड्डू हांडा, लालू पंडा, गंगा प्रहरी अमरनाथ पटवा मौजूद रहे।

खेतों में जल रही पराली रायबरेली : कई गांवों के खेतों में रविवार को पराली जलते देखी गई। वहीं लेखपाल इससे अनभिज्ञ बने हुए हैं।

धान की कटाई हो चुकी है। किसान गेहूं बोआई की तैयारी कर रहा है। खेतों को जल्दी तैयार करने के लिए पराली जलाई जा रही है। कन्नावा गांव के पास खेतों में पराली जलती देखी गई। इसके अलावा देवपुरी, इचौली, राजामऊ, तिलेंडा गांव में पराली जलाई गई। उपजिलाधिकारी विनय मिश्रा ने बताया कि फसल अवशेष प्रबंधन को लेकर किसानों को जागरूक किया जा रहा है। पराली जलाने वाले किसानों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस