मेरठ, जेएनएन। थाना क्षेत्र के ईकड़ी गांव में मंगलवार दोपहर करीब तीन बजे रविदास जयंती निकालने व कमेटी के पैसे के लेनदेन को लेकर चाचा-ताऊ के लड़कों के बीच पथराव-फायरिग हुई। बीच-बचाव में आए मां व पुत्र गोली लगने से घायल हो गए। पुलिस ने घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। उनके बेटे को मेरठ रेफर कर दिया। पीड़ित ने अपने बड़े भाई के लड़कों के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। दो नामजद आरोपितों को हिरासत में ले लिया है।

गांव ईकड़ी निवासी पीड़ित बुजुर्ग शंभू पुत्र स्व. भूले व बड़े भाई स्व. गिरवर के बेटे के बीच डेढ़ साल से जमीनी विवाद चला आ रहा है। मामला कोर्ट में विचाराधीन है। सोमवार देर रात शंभू के बड़े भाई के लड़कों ने उन्हें गांव स्थित रविदास मंदिर में आगामी दिनों में निकलने वाली रविदास जयंती व कमेटी के पैसे के लेनदेन को लेकर बुलाया। बातचीत के दौरान उनका विवाद हो गया। शंभू मंदिर कमेटी के पैसे में हो रही गड़बड़ी के चलते जयंती निकालने से इन्कार कर रहा था, लेकिन उसके भाई के लड़के जयंती निकालने के लिए अड़े हुए थे। दोनों पक्षों में जमकर लात-घूसे चले। वहां मौजूद लोगों ने जयंती न निकालने की बात कहकर मामले को शांत करा दिया था।

मंगलवार दोपहर फिर विवाद हो गया। दोनों पक्षों में कहासुनी के बाद पथराव हुआ। पीड़ित ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। घटना के एक घंटे बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इसी दौरान बीच-बचाव में आई पीड़ित की पत्नी ममता व उनके बेटे आदेश को आरोपित पक्ष के लोगों ने गोली मार दी। छह राउंड फायरिग होने से गांव में अफरातफरी मच गई। आरोपित मौका देख कर भाग निकले। सीओ आरपी शाही ने बताया कि दो युवकों को हिरासत में ले लिया है। अन्य के लिए दबिश दी जा रही है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप