बरेली, जेएनएन। Shahjahanpur Girl Student Burnt Case Update : सोमवार को बीए की छात्रा को जलाकर मारने की साजिश पहले ही रच ली गई थी। तीनों आरोपितों ने उसे बुलाया, इसके बाद बाग में वारदात को अंजाम दे दिया। उसे आग लगाने के बाद आरोपित फरार हो गए। लखनऊ में भर्ती छात्रा की हालत गंभीर बनी हुई है।

छात्र के पिता सोमवार को सुबह 10 बजे घर से निकले थे। 11.36 बजे उसने एसएस कालेज के मुख्य द्वार से प्रवेश किया। इसके बाद लाइब्रेरी के पास खड़ी रही, मानो किसी का इंतजार कर रही थी। दोपहर 12.08 बजे वहां पिछले दरवाजे से निकल गई। यह सब कालेज में लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हुआ है। पुलिस ने इसकी फुटेज प्राप्त कर ली है।

सोमवार रात को ही पुलिस ने घटनास्थल के आसपास सर्च अभियान चलाया। एएसपी ग्रामीण संजीव कुमार वाजपेयी ने बताया कि कालेज से कुछ दूरी पर छोटे लाल के आम के बाग में छात्र के अधजले कपड़े बरामद हुए। पुलिस का कहना है कि जिस अवस्था में कपड़े मिले, उससे ऐसा प्रतीत हो रहा कि रखे कपड़ों में आग लगाई गई है। उसी जगह पर शराब का एक खाली पव्वा, केरोसिन की खाली बोतल, नमकीन का पैकेट बरामद हुआ है।

शातिर आरोपितों ने नहीं की फोन पर बात : छात्र के पास स्मार्ट फोन है, मगर उस दिन वह अपने साथ लेकर नहीं आई थी। माना जा रहा है कि आरोपितों ने झांसे में लेकर मोबाइल फोन से दूरी बनाने को कहा। इसके बाद मिलने के बहाने बुलाया। छात्रा को जिंदा जलाने की योजना तय थी, इसीलिए केरोसिन की बोतल पहले ही रखी थी।

शराब पीने के बाद आरोपितों ने वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गए। ऐसी घटना क्यों की गई, इस बाबत पुलिस अभी चुप है। मगर, छात्रा का निर्वस्त्र मिलना, आग लगाना बड़ी अनहोनी की ओर इशारा कर रहा। स्वजन दुष्कर्म की आशंका जता चुके हैं। उसकी हालत बेहद गंभीर है, इसलिए इस बाबत मेडिकल नहीं कराया जा सका है।

एक नंबर पर हुई कई बार बात: घटना वाले दिन आरोपित ने भले ही काल डिटेल से बचने की कोशिश की हो, मगर पुराने रिकार्ड में वह फंसता नजर आ रहा। छात्रा के फोन की डिटेल निकलवाई गई तो पता चला कि एक मोबाइल नंबर पर उसकी दिन और रात में कई बार बात होती थी। पुलिस मान रही है कि यह फोन नंबर मनीष का हो सकता है। इसकी पुष्टि की जा रही है।

गर्रा पुल को बना लिया सेल्फी प्वाइंट : ग्रामीणों के मुताबिक घटना स्थल से करीब डेढ़ किमी दूर गर्रा पुल है। जहां अक्सर युवक-युवतियां बैठकर अश्लील हरकतें करते है। इसके अलावा पुल पर खड़े होकर नदी के साथ सेल्फी भी खींचते है। कई बार ग्रामीण इसको लेकर आपत्ति भी कर चुके है। इसके बाद पुल पर पुलिस की ड्यूटी भी लगने लगी थी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप