संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : विगत पांच माह के लंबित वेतन भुगतान समेत अन्य मांगों को लेकर रोडवेज कर्मचारी यूनियन मुखर हो चली है। वेतन नहीं मिलने से गुस्साए संगठन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने कार्यशाला परिसर में धरना देकर आक्रोश व्यक्त किया। कहा है कि यदि जल्द समस्या का निस्तारण नहीं किया गया तो यूनियन प्रांतीय कार्यकारिणी के दिशा-निर्देशों के तहत आंदोलन तेज करने को बाध्य होगी। कहा कि हितों की अनदेखी किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके लिए चाहे कितना ही संघर्ष क्यों नहीं करना पड़े।

धरना स्थल पर शारीरिक दूरी के मानकों के तहत हुई सभा में डिपो शाखा अध्यक्ष कंचन कुमार ने कहा कि यूनियन लंबे अर्से से अपनी हर मासिक बैठकों में लंबित वेतन का भुगतान किए जाने, कार्मिकों को करियर प्रोगेशन का लाभ दिए जाने समेत अन्य लंबित समस्याओं के निराकरण की मांग उठा रही है, इसके बाद भी अब तक कोई सुध नहीं लिए जाने से कार्मिकों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा है कि अधिकांश कार्मिक ऐसे हैं जो यहां किराए का कमरा लेकर अपनी सेवाएं दे रहे है। ऐसे में उन्हें किराए के भुगतान समेत अपने परिवार के भरण-पोषण में अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। संगठन ने कार्मिकों के हित में हर माह के प्रथम सप्ताह में वेतन वितरण की व्यवस्था बनाने के लिए कारगर उपाय किए जाने की मांग उठाई। इधर यूनियन की हड़ताल की वजह से डिपो की अल्मोड़ा-टनकपुर सेवा का संचालन नहीं हो सका। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। धरना व प्रदर्शन में डिपो मंत्री शंकर ग्वासाकोटी, देवेंद्र कुमार, संतोष कुमार, राजेंद्र कुमार प्रथम, खुशाल कुमार व कृष्ण चंद्र आदि मौजूद रहे।

-------------

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021