मधेपुरा। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शंकर गोशाला परिसर व विभिन्न प्रखंडों में अवस्थित गोशाला के कृषि योग्य भूमि का गोशाला कमेटी के सदस्यों के साथ अनुमंडल पदाधिकारी ने निरीक्षण किया। उसके बाद गोशाला के आय का स्रोत बढ़ाने सहित उसके जमीन को अतिक्रमण मुक्त करने का निर्णय लिया गया। साथ ही कृषि योग्य भूमि व पोखर के बंदोबस्ती राशि को बढ़ाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। गोशाला कमेटी के अध्यक्ष सह अनुमंडल पदाधिकारी उदाकिशुनगंज राजीव रंजन कुमार सिन्हा ने कमेटी के अन्य सदस्यों के साथ आलमनगर प्रखंड के नरथुआ भागीपुर के भोला बासा व करूआगंज में कृषि योग्य 16-16 एकड़, उदाकिशुनगंज प्रखंड के मधुबन तीनटेंगा में 16 एकड़ तथा मुख्यालय स्थित गोशाला परिसर का निरीक्षण किया। गौशाला की विभिन्न समस्याओं से अवगत होते हुए सर्वप्रथम अतिक्रमित जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने का निर्णय लिया गया। साथ ही गोशाला के आय बढ़ाने पर गहन विचार-विमर्श की गई। एसडीएम ने कहा कि पुरैनी स्थित गोशाला पोखर सहित आलमनगर,उदाकिशुनगंज प्रखंड स्थित कृषि योग्य भूमि की बंदोबस्ती लेने वाले सभी किसानों को पूर्व में सूचना देकर बंदोबस्ती राशि में बढ़ोतरी की जाएगी। इस दौरान गोशाला परिसर के सौंदर्यीकरण कराने का निर्णय लेते हुए विवाह सहित अन्य सामाजिक व राजनीतिक कार्यक्रम के आयोजन के लिए सर्वसम्मति से उचित भाड़े की राशि तय की गई। साथ ही परिसर में शेड, पेयजल, शौचालय आदि की समुचित व्यवस्था करने का भी निर्णय लिया गया। गोशाला कमेटी के सचिव अर्जुन अग्रवाल ने बताया कि इसके अलावा पूर्णिया जिले के भवानीपुर प्रखंड के सोनुआ बलिया में भी गोशाला की पांच एकड़ कृषि योग्य जमीन है। एसडीएम राजीव रंजन कुमार सिन्हा ने कहा कि उक्त जमीन का भी निरीक्षण कर उसे सर्वप्रथम अतिक्रमण से मुक्त कराते हुए बंदोबस्ती की राशि में बढ़ोतरी की जाएगी। मौके पर अंचलाधिकारी राम अवतार यादव, गोशाला कमेटी उपाध्यक्ष सह मुखिया पवन कुमार केडिया, कोषाध्यक्ष बजरंग चौधरी, सदस्य आनंद जैन, विलास शर्मा, नारायण चौधरी, गौरव राय, पवन कुमार झा, सुभाष अग्रवाल, अशोक महाराज, गौरव अग्रवाल, विवेक कुमार आदि उपस्थित थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021