कुशीनगर: बर्ड फ्लू की दहशत इन दिनों शहर से लेकर गांवों तक लोगों में फैली हुई है। हालांकि जिले में अभी तक इस तरह का कोई ऐसा केस नहीं मिला है, लेकिन एहतियात के तौर पर लोग मुर्गे का मीट और अंडा खाने से परहेज कर रहे हैं। इससे कारोबार प्रभावित हुआ है। बीते चार दिन में चिकन के दाम में 60 रुपये तक की गिरावट हुई है तो अंडे की खपत भी काफी कम हो गई है।

कारोबारियों की माने तो सर्दी में चिकन और अंडे की मांग बढ़ जाती, लेकिन बर्ड फ्लू की आशंका में यह काफी काफी घट गई है। अंडा के थोक विक्रेता दुर्गेश जायसवाल व कमलेश सिंह ने बताया कि कसया नगर में 25 से 30 हजार प्रतिदिन अंडे की बिक्री है, लेकिन वर्तमान में यह पांच हजार पर आकर सिमट गयी है। बाहर से मंगाए गए अंडे के खराब हो जाने के बाद पूंजी का भी नुकसान होने की आशंका है। सिसवा महंथ निवासी मुर्गी फार्म मालिक व चिकन विक्रेता सीपीएन सिंह व घनश्याम सिंह ने कहा कि क्षेत्र में लगभग आधा दर्जन से अधिक पंजीकृत मुर्गी फार्म हैं। फार्मों में लाखों रुपये के बच्चे रखे गए थे। अब वह तैयार हो गए हैं, लेकिन बर्ड फ्लू बीमारी की डर से लोग चिकन खान से परहेज कर रहे हैं। पिछले एक सप्ताह से 50 से 60 रुपये प्रति किलो रुपये की दाम में गिरावट हुई है। कोरोना संक्रमण काल में भी कारोबारियों का काफी नुकसान हुआ था।

पूर्व प्रधान की शिकायत पर मतदाता सूची की हुई जांच

दुदही विकास खंड के ग्राम पंचायत बरवा बभनौली में एसडीएम के निर्देश पर नायब तहसीलदार विकास सिंह ने शिकायतकर्ता पूर्व प्रधान समीउल्लाह अंसारी व रवींद्र की शिकायत पर मतदाता सूची की जांच की।

कानूनगो अकरम अंसारी ने बताया कि शिकायतकर्ता अंतिम मतदाता सूची पर आपत्ति की थी, जिसके क्रम में ग्रामीणों के सामने सबका नाम बोलकर सुनाया गया, लोगों की शिकायत सुनी गई, और मौके पर ही निस्तारित किया गया। लेखपाल मुरलीधर सुमन, श्रीकांत, शैलेश मिश्र, समीउल्लाह अंसारी, सुरेश खरवार, राजू चौबे, कमलेश खरवार, नसरुद्दीन, बादशाह आदि उपस्थित रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021