कुशीनगर: शासन के निर्देश पर प्रत्येक पात्र परिवार का गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए चलाए जा रहे अभियान की खड्डा तहसील की कमान एसडीएम अरविद कुमार ने संभाल ली है। अभियान में शामिल कर्मचारियों व कोटेदारों के साथ बैठक कर रहे हैं और तहसील क्षेत्र में जगह-जगह नुक्कड़ सभा कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

गुरुवार को नवसृजित नगर पंचायत छितौनी में शामिल किए गए पनियहवा, छितौनी, बुलहवा व नरकहवां गांव में एसडीएम ने नुक्कड़ सभा की। उन्होंने ग्रामीणों को आयुष्मान भारत योजना की जानकारी देते हुए कहा कि इससे पांच लाख तक का निश्शुल्क इलाज संभव हो सकेगा। जिन पात्र परिवारों का अब तक गोल्डन कार्ड नहीं बन पाया है, उनके लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। सभी लोग सहज जनसेवा केंद्रों पर जाकर अपना गोल्डेन कार्ड बनवा लें। एसडीएम ने छितौनी स्थित मस्जिद के ध्वनि विस्तारक यंत्र के माध्यम से भी लोगों से कार्ड बनवाने की अपील की। जनसेवा केंद्र संचालक अमरजीत जायसवाल को बुलाकर प्राथमिक विद्यालय छितौनी परिसर में कैंप लगवाया। इसमें 57 लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए गए।

सहयोग करें कर्मचारी

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कप्तानगंज परिसर में गोल्डन कार्ड बनवाने को लेकर कर्मचारियों की बैठक हुई। प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. एसके गुप्ता ने कहा कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सीएचसी में निश्शुल्क गोल्डन कार्ड बनाया जा रहा है। सहज जनसेवा केंद्रों पर भी 30 रुपये निर्धारित शुल्क देकर कार्ड बनवाया जा सकता है। डा. रुपेश कुशवाहा, डा. उमेश यादव, डा. अब्दुल्ला सऊद, संदीप गोंड़, आत्मा सिंह, शैलेश पांडेय आदि मौजूद रहे।

पात्रों की तलाश में भटक रहे अधिकारी

मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत 244 मुसहरों में 14 पात्रों की तलाश पूरी नहीं हो पाई है। एक महीना से चल रही इस प्रक्रिया में अभी तक अधिकारियों को मात्र 230 मुसहर पात्र मिले हैं। योजना के तहत कुल 1184 आवास स्वीकृत हैं। इसमें जेई-एइएस प्रभावित, कालाजार व दैवीय आपदा से प्रभावित 940 पात्रों का चयन हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि पात्रों का चयन समय से नहीं हुआ तो दोबारा जिला स्तरीय टीम स्थलीय निरीक्षण कर सत्यापन करेगी, अगर पात्रता मिली तो कार्रवाई तय है।

159 मुसहर बस्तियों को खंगाल रहे कर्मचारी

जिले के 1003 ग्राम पंचायतों में से 159 मुसहर बस्तियों में पात्रों को खंगालने में जुटे कर्मचारी डोर टू डोर सत्यापन कर रहे हैं। रजिस्टर में यह दर्ज कर रहे हैं कि कितने मुसहर पात्रों को लाभ मिल चुका है और अभी कितने बाकी हैं।

सीडीओ अन्नपूर्णा गर्ग ने कहा कि

पात्रों के चयन की प्रक्रिया अंतिम दौर में है, उम्मीद है कि शुक्रवार तक पूर्ण हो जाएगी। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। शासन की मंशा के अनुरूप हर हाल में पात्रों का चयन पूर्ण कर लिया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021