जेएनएन, बिल्सी (बदायूं): सर्द रात में झोपड़ी में आग लग गई, जिसमें सो रहे वृद्ध की जलकर मौत हो गई। ग्रामीणों की मदद से स्वजनों ने आग पर काबू पाया। गंभीर हालत में जले वृद्ध को निकालकर अस्पताल ले गए। लेकिन, वृद्ध की जान नहीं बच सकी। छप्पर में आग लगने का कारण पता नहीं चला है। लेकिन, सर्दी से बचाव को लगे अलाव से आग लगने की आशंका जताई जा रही है।

हादसा गांव जहानाबाद में शनिवार देर रात हुआ। गांव के 65 वर्षीय धनपाल लंबे समय से बीमार थे। वह बोलने और चलने में असक्षम थे। स्वजन उन्हें घर के बाहर घेर में पड़े छप्पर में सुलाते थे। शनिवार रात बेटे जगदीश ने सर्दी ज्यादा देखी तो धनपाल की झोपड़ी में अलाव जला दिया था। माना जा रहा है कि अलाव से निकली चिगारी से झोपड़ी में आग लगी। तेज हवा चलने से आग भड़क गई और धनपाल उसी में फंस गए। जलता हुआ छप्पर उनके ऊपर गिरा, जिससे वह बुरी तरह झुलस गए। ही छप्पर से आग की लपटें निकलने लगीं तो बेटा-बहू बाहर आए और ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। काफी मशक्कत के बाद आग बुझाई गई। इसी दौरान वृद्ध को बाहर निकाला गया, लेकिन उनकी स्थिति गंभीर हो गई थी। धनपाल को गंभीर हालत में अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन उनकी मौत हो गई। ----------------- कार की टक्कर से मां-बेटा घायल

जेएनएन, सिलहरी (बदायूं) : कार और बाइक भिड़ंत में बाइक सवार मां-बेटे गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के बाद रोड पर लगा जाम लग गया। थाना सिविल लाइन क्षेत्र में बदायूं-अलापुर मार्ग स्थित ग्राम कुलचौरा के निकट शहर से घर जा रहे बाइकसवार जय प्रताप और उनकी मां वीरवती को सामने से आ रही कार ने टक्कर मार दी। हादसे के दौरान कार रोड पर ही पलट गई। कार चालक तो बच गया, लेकिन बाइक सवार मां-बेटा घायल हो गए। पुलिस ने क्षतिग्रस्त कार और बाइक को कब्जे में लिया। कार को सड़क से किनारे कराकर जाम खुलवाया। चौकी प्रभारी मंडी समिति ओमपाल सिंह ने बताया घायल बाइक सवारों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस