जासं, हाथरस : सरकारी विभागों की ओर से दी जाने वाली सुविधाओं में कभी-कभी कमीशन आड़े आ जाता है। इससे सुविधाएं दम तोड़ जाती हैं। बिजली विभाग में भी बिल जमा करने की सुविधा का भी ऐसा ही हश्र हुआ है। इसके कारण लोगों के घर-घर जाकर बिल जमा नहीं हो पा रहे हैं।

अब तक : मीटर रीडर की ओर से दिए जाने वाले बिल को अब तक उपभोक्ताओं की ओर से काउंटर पर जाकर बिल जमा किया जाता रहा है या फिर सीएससी के माध्यम से भी लोग जमा करते रहे हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं कि जो खाता नंबर के आधार पर अपने मोबाइल से भी बिल जमा करते हैं।

ऐसे शुरू की सुविधा : बिजली विभाग ने राजस्व बढ़ाने व उपभोक्ताओं को सुविधा देने के लिए घर-घर जाकर बिल जमा कराने की शुरुआत पिछले माह की थी। इसके लिए स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं की मदद ली गई थी। सासनी क्षेत्र में दो महिलाओं से इसकी शुरुआत की गई। विभाग की ओर प्रति बिल के हिसाब से 20 रुपये का कमीशन तय हुआ था। इसमें 19 रुपये बिल जमा कराने वाले और एक रुपये प्रति बिल वॉलेट कंपनी से तय हुए थे। कुछ लोगों के बिल जमा करने के बाद वॉलेट कंपनी ने यह कहकर हाथ खड़े कर दिए कि यह कमीशन कम है। इसके कारण यह सुविधा बीच में ही दम तोड़ गई। इनका कहना है

बिल जमा करने के लिए वॉलेट कंपनी और संस्था के बीच कमीशन को लेकर विवाद है। इस वजह से यह काम फिलहाल रुका हुआ है।

हरीमोहन, अधीक्षण अभियंता

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस