जागरण संवाददाता, देवघर : साइबर आरोपितों के खिलाफ पुलिस का अभियान लगातार जारी है। इस अभियान के तहत पुलिस ने बुधवार की रात छापेमारी कर एक सीएसपी संचालक सहित एक दर्जन साइबर आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर देवीपुर थाना क्षेत्र के सधवाडीह, गिधौर, सारठ क्षेत्र के सिमजोर, जमुआ, सघरिया, सोनारायठाढ़ी थाना क्षेत्र के भोखोडीह, गड़वा, मोहनपुर थाना क्षेत्र के बांक, चितरा थाना क्षेत्र के श्रीडंगाल, मधुपुर थाना क्षेत्र के लाना व पालोजोरी थाना क्षेत्र के डुमरकोला गांव में छापेमारी कर इन साइबर आरोपितों को पकड़ा। एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने बताया कि इस छापेमारी अभियान के लिए डीएसपी मंगल सिंह जामुदा व नेहा बाला के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया था। इन आरोपितों के पास से 46500 रुपया नकद, एक पॉस मशीन, पांच चेकबुक, पांच पासबुक, आठ एटीएम, 20 सीम कार्ड व 16 मोबाइल बरामद किए गए हैं। पकड़े गए आरोपितों में से सूरज मंडल की तलाश राजस्थान पुलिस कर रही थी। उसके खिलाफ राजस्थान के भिवंडी थाना में एक वरीय प्रशासनिक पदाधिकारी के ससुर से करीब 25 हजार ठगी करने का आरोप है। इस सिलसिले में पिछले नौ जनवरी को भिवंडी थाने में ठगी व आइटी एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। मामला दर्ज करने के बाद जांच में लोकेशन देवघर जिला का आया। उसके बाद वहां से एसपी ने देवघर एसपी से संपर्क किया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना को अंजाम करने में प्रयोग किए गए मोबाइल के साथ सूरज को पकड़ा। पूछताछ के दौरान उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसने बताया कि बैंक अधिकारी बनकर उसने करीब 25 हजार की ठगी की। उसने में 295 रुपया सेवा शुल्क के तौर पर कट गया। उसने देवघर एसपी के सामने ठगी के पूरे प्रकरण का डेमो करके दिखाया। उसने बताया कि इस कांड में अरुण यादव, राम बाबू, कार्तिक कुमार, गणेश रजवार भी शामिल थे। उनकी तलाश पुलिस कर रही है। इनकी तलाश में देवघर व जामताड़ा में पुलिस छापेमारी कर रही है।

पकड़े गए साइबर आरोपित : पकड़े गए साइबर आरोपितों में पालोजोरी थाना क्षेत्र के डुमरकोला गांव निवासी सूरज मंडल, मधुपुर थाना क्षेत्र के लाना मोहल्ला निवासी अली अकबर, सारठ थाना क्षेत्र के सधरिया गांव निवासी प्रकाश मंडल, चितरा थाना क्षेत्र के श्रीडंगाल गांव निवासी कलीम अंसारी, सारठ थाना क्षेत्र के जमुआ गांव निवासी उमेश राणा, देवीपुर थाना क्षेत्र के सधवाडीह गांव निवासी अमर कुमार दास, आकाश कुमार दास, नीतिश कुमार दास, गिधैया गांव निवासी विवेक कुमार दास, दीपक कुमार दास, सोनारायठाढ़ी थाना क्षेत्र के गड़वा गांव निवासी मनोज कुमार यादव व जितेन्द्र कुमार मिर्धा शामिल हैं। इनमें से प्रकाश मंडल सीएसपी संचालक है। वह साइबर आरोपितों से 20 से 30 प्रतिशत कमीशन लेकर अवैध तरीके से पैसे की निकासी करने में मदद करता है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021