गोरखपुर, जेएनएन। पिपराइच थाना क्षेत्र के पिपरा चूरामन निवासिनी एक महिला ने दो महिलाओं पर आरोप लगाया है कि उन्होंने शादी के नाम पर उनकी पुत्री को बेचने का प्रयास किया है। उनका कहना है कि शादी में रिश्तेदारों के आ जाने से भेद खुल गया है। महिला ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया है। बरगदहीं में दोनों पक्ष एक दूसरे से विवाद कर रहे थे। इसी दौरान भटहट चौकी पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। विवाद की सूचना पर दोनों पक्षों को चौकी पर लेते आई।

ऐसे खुला भेद

महिला ने आरोप लगाया कि शादी से 20 दिन पूर्व दोनों महिलाओं ने उससे संपर्क किया और कहा कि वह बिना दान-दहेज  के उनकी बेटी की शादी करा देंगी, लेकिन कोई रिश्तेदार वहां ना आएं। शनिवार को बरगदही शिव मंदिर पर शादी का आयोजन किया गया। लेकिन महिला की गरीबी को देखते हुए शादी में कुछ रिश्तेदार व ग्रामीण भी मदद के लिए पहुंच गए। ग्रामीणों ने बारातियों के विषय में पूछताछ शुरू की तो बिचौलिए वहां से खिसक लिए।

बाद में पता चला कि बिचौलिए महिलाएं मानव तस्करी का कार्य करती हैं। शादी के नाम पर लड़कियों को राजस्थान में बेच दिया जाता है। सोमवार को लगभग 3:15 बजे तहरीर पडऩे की सूचना पर राजस्थान के झुंझुनू जिले के सुल्तान सिंह, भंवर लाल सिंह, जोधा राम सिंह व रमेश उक्‍त महिलाओं के साथ टवेरा गाड़ी से पहुंचे और सुलह समझौते का प्रयास करने लगे। इसी दौरान दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई। भटहट चौकी पुलिस लड़के वालों को हिरासत में लेकर चौकी पर चली गई। प्रभारी चौकी इंचार्ज भटहट राम अनुज यादव ने बताया कि लड़की पक्ष वालों की तरफ से पिपराइच थाने में तहरीर दी गई है। उनके क्षेत्र में विवाद की सूचना पर पुलिस गई थी। जांच पड़ताल की जा रही है ।

शार्ट सर्किट से लगी आग, हजारों की क्षति

पीपीगंज नगर पंचायत के वार्ड नंबर नौ के निवासी मुन्ना अग्रहरी के आवास पर शार्ट सॢकट से सोमवार शाम करीब छह बजे आग लग गई। इससे बिस्तर, राशन, कपड़ा आदि जल कर खाक हो गया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप