जेएनएन, शाहजहांपुर : कोरोना वैक्सीन आने के बाद 16 जनवरी से जिले में मेडिकल कॉलेज समेत 22 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो जाएगा। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने सभी केंद्र पर 108 एंबुलेंस हर समय खड़ी रखने के निर्देश दिए हैं। ताकि टीका लगवाने के दौरान किसी की तबीयत खराब होती है तो उसे नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र तक पहुंचाया जा सके। ऐसे में हादसे में घायल व अन्य मरीजों को परेशानी हो सकती है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी दावा कर रहे हैं कि मरीजों को किसी तरह की दिक्कत नहीं होने दी जाएगी।

जिले में 108 की 37 एंबुलेंस हैं, जिनसे करीब 200 से 250 लोगों को हर दिन अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। सबसे ज्यादा हादसों में घायल लोगों को एंबुलेंस मुहैया कराई जाती है। लेकिन 16 जनवरी को 37 में 22 एंबुलेंस को टीका केंद्रों पर मौजूद रहेंगी। ऐसे में महज 15 एंबुलेंस ही घायल व अन्य मरीजों के लिए उपलब्ध रहेगी, जिससे मरीजों को समय से एंबुलेंस मिलने में भी दिक्कत हो सकती है।

गर्भवती व बच्चों के लिए है 102 एंबुलेंस

जिले में 102 एबुलेंस की 34 गाड़ियां हैं, जिनसे हर दिन करीब 400 गर्भवती महिलाओं व बच्चों को अस्पताल लाया जा रहा है, ऐसे में इन गाड़ियों से अन्य मरीजों को अस्पताल लाना संभव नहीं लग रहा।

14 मिनट है रिस्पांस टाइम

एंबुलेंस का ग्रामीण क्षेत्रों में रिस्पांस टाइम 14 मिनट का है। एंबुलेंस कम होने से रिस्पांस टाइम पर भी असर पड़ेगा।

वर्जन

जिन केंद्रों पर कोरोना का टीका लगना है वहां 108 की एंबुलेंस हर समय मौजूद रहेंगी। जरूरत पर 102 एंबुलेंस से अन्य मरीजों को अस्पताल पहुंचाने का प्रयास रहेगा। 108 एंबुलेंस के फेरे भी बढ़ा दिए जाएंगे।

अजीत कुमार, जिला प्रभारी एंबुलेंस सेवा

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021