रायबरेली : विकासखंड क्षेत्र के पूरे पंचम सिंह मजरे हरदोई के पास से निकली बाला माइनर अचानक कट जाने से करीब 50 बीघे फसल जलमग्न हो गई। माइनर का पानी रिहायशी बस्ती में पहुंच गया। प्रशासनिक अफसरों से शिकायत पर विभागीय अधिकारी नहर की मरम्मत करा रहे हैं। किसानों ने बताया कि बाला माइनर पूर्व में भी कट चुकी है लेकिन अफसरों ने ध्यान नहीं दिया।

गुरुवार की सुबह माइनर कटने की सूचना पर गांव के किसान भागकर खेतों में पहुंचे। पहले उन्होंने खुद समस्या का निदान करने के लिए मेहनत की। काफी देर तक जद्दोजहद करते रहे, मगर सफलता नहीं मिली। उसके बाद सरकारी अमले से मदद मांगी गई है। देर शाम तक मरम्मत का काम जारी रहा। स्थानीय महेंद्र कुमार, संतोष कुमार, विपिन आदि किसानों ने बताया कि इसके पूर्व भी माइनर कट जाने से किसानों की फसल का नुकसान हो चुका है। इस संबंध में कई बार शिकायत की गई, मगर समस्या का स्थायी हल नहीं खोजा गया। यही कारण है कि एक बार फिर 50 बीघे से ज्यादा क्षेत्र में खड़ी फसल जलमग्न हो गई है। और तो और रिहायशी बस्ती में पानी भर गया है। गलन के कारण जहां लोग ठिठुर रहे हैं, वहीं गांव के लोग पानी से होकर ही बाहर निकल पा रहे हैं। गांव जाने का मुख्य रास्ता पानी की वजह से बंद हो गया है। आवागमन पूरी तरह बाधित है। ग्रामीण घरों में रुकने को मजबूर हैं। उपजिलाधिकारी विनय कुमार मिश्रा ने बताया कि माइनर दुरुस्त कराई जा रही है। जल्द ही समस्या का स्थायी समाधान कराने का प्रयास किया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021