अहमदाबाद। करीब दो साल बाद अपना पहला टेस्ट शतक जड़ने के बाद राहत महसूस कर रहे वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि पहले खेली गई उनकी कुछ बड़ी पारियों के वीडियो देखने से उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में शतक लगाने में मदद मिली। इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में 117 गेंदों में 15 चौकों और एक छक्के की मदद से 117 रन की पारी खेलने वाले सहवाग ने पहले दिन के खेल के बाद कहा कि मुझे अपने विडियो एनालिस्ट धनंजय को धन्यवाद देना होगा। हमने बुधवार रात 11 बजे तक पिछली उन पारियों के वीडियो देखे, जिसमें मैंने शतक बनाया था। मैंने देखा कि जब भी मैंने पहले दस ओवर सतर्कता के साथ खेले तो शतक बनाया। मैंने आज ऐसा ही किया। सहवाग ने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि मुझे डेढ़ से दो साल में अपना पहला शतक बनाने की खुशी है। मुझे शतक जड़ने की अपनी क्षमता पर कोई संदेह नहीं था, लेकिन आप लोगों को था।

न्यूजीलैंड के खिलाफ 2010 में इसी मैदान पर 173 रन की अपनी पिछली पारी के साथ इस पारी की तुलना करते हुए सहवाग ने कहा कि उस मैच में विकेट बल्लेबाजी के लिए काफी अच्छा था। सहवाग ने गंभीर और पुजारा के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि मोटेरा के सरदार पटेल स्टेडियम का विकेट काफी धीमा है, जिससे जीत के लिए इंग्लैंड के 20 विकेट चटकाने की भारतीय गेंदबाजों की राह आसान नहीं होगी। उन्होंने कहा कि गंभीर ने अच्छी पारी खेली और हमने टीम को अच्छी शुरुआत दी। पुजारा ने भी अच्छी बल्लेबाजी की। उसने संयम दिखाते हुए ढीली गेंदों को नसीहत दी। उसे दूसरे दिन अपना शतक पूरा करना चाहिए। लेकिन विकेट बहुत धीमा है और इस पर शॉट लगाना आसान नहीं है। हमारे गेंदबाजों को इंग्लैंड के बीस विकेट हासिल करने के लिए वास्तव में कड़ी मेहनत करनी होगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस