मिलान। क्रिस्टियानो रोनाल्डो के गोल की मदद से रीयल मैड्रिड ने एटलेटिको मैड्रिड को पेनल्टी शूटआउट में 5-3 से हराकर चैंपियन लीग का खिताब 11वीं बार हासिल कर लिया। निर्धारित समय और अतिरिक्त समय के बाद दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर थी।
खचाखच भरे सेन सेरिनो स्टेडियम में 15वें मिनट में कप्तान सर्गियो रामोस ने गोल दागते हुए रीयल को 1-0 की बढ़त दिलाई। बेल्जियम के यानिक कैरास्को ने 79वें मिनट में गोल दागकर एटलेटिको मैड्रिड को बराबरी दिलाई। पेनल्टी शूटआउट में रीयल की तरफ से लुकास वास्केज, मार्सेलो, गेराथ बेल, सर्गियो रामोस और क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने गोल दागे। एटलेटिको की तरफ से ग्रीजमैन, गाबी और साउल ने गोल दागे जबकि चौथे प्रयास पर जुआनफ्रान पेनल्टी चूके। पेनल्टी शूटआउट में दोनों टीमें 3-3 की बराबरी पर थी, ऐसे में रामोस ने गोल दागते हुए रीयल को 4-3 की बढ़त दिलाई। एटलेटिको की तरफ से जुआनफ्रान चौथी पेनल्टी के लिए आगे आए, लेकिन उनके प्रयास को रीयल के गोलकीपर ने विफल कर दिया। अब रीयल को जीत दिलाने की जिम्मेदारी रोनाल्डो पर टिक गई थी और उन्होंने टीम की तरफ से पांचवीं पेनल्टी पर गोल दागते हुए टीम को 5-3 से जीत दिला दी।
रीयल के कोच जिनेदिन जिदाने ऐसे सातवें फुटबॉलर बन गए, जिन्होंने खिलाड़ी और कोच दोनों हैसियत से चैंपियंस लीग खिताब हासिल किए। रोनाल्डो का यह तीसरा चैंपियंस लीग खिताब है, वे दो बार रीयल मैड्रिड के साथ तथा एक बार मैनचेस्टर यूनाइटेड के साथ यह खिताब हासिल कर चुके हैं। 1956 में पहले चैंपियंस लीग का खिताब रीयल ने जीता था। उन्होंने दो वर्ष पूर्व लिस्बन में 10वीं बार यह खिताब अपने नाम किया था।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern