नई दिल्ली। 'बजरी के लाल' राफेल नडाल ने शुक्रवार को नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविक को पांच सेटों तक चले रोमांचक मैराथन मुकाबले में मात देते हुए साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपेन के खिताबी मुकाबले में अपनी जगह सुनिश्चित कर ली। यहां उनकी भिड़ंत हमवतन डेविड फेरर से होगी, जिन्होंने फ्रांस के जो विल्फ्रेड सोंगा को हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

अपने रिकॉर्ड आठवें रोला गैरां खिताब की तलाश में उतरे तीसरी वरीय नडाल ने सेमीफाइनल मुकाबले में जोकोविक पर 6-4, 3-6, 6-1, 6-7, 9-7 से जीत दर्ज की। यह मुकाबला चार घंटे, 37 मिनट तक चला। नडाल ने चौथे सेट में दो बार बढ़त गंवाने के बावजूद सेट गंवाया। उन्होंने हालांकि पांचवें और निर्णायक सेट में 2-4 से पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी की। जोकोविक ने निर्णायक सेट में 7-8 के स्कोर पर बिना कोई अंक बनाए ही अपनी सर्विस गंवा दी और इसके साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गए। इस हार के साथ जोकोविक का करियर ग्रैंड स्लैम पूरा करने का सपना भी चूर हो गया। छह ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुके जोकोविक अब अगले साल यहां करियर ग्रैंड स्लैम पूरा करने वाले आठवें पुरुष खिलाड़ी बनने की कोशिश करेंगे।

दूसरे सेमीफाइनल में चौथी वरीय फेरर ने 6-1, 7-6, 6-2 से सोंगा को हराकर पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई। सोंगा की हार के साथ तीस साल से रोलां गैरो खिताब जीतने वाले फ्रांसिसी खिलाड़ी का इंतजार कर रहे स्थानीय दर्शकों का इंतजार और बढ़ गया।

सेरेना और शारापोवा के बीच हाइवोल्टेज फाइनल आज

महिला सिंगल्स के फाइनल में शनिवार को मौजूदा चैंपियन मारिया शारापोवा के सामने अमेरिका की सेरेना विलियम्स होंगी। 18 साल बाद फ्रेंच ओपेन में यह पहला मौका होगा, जब महिलाओं का फाइनल दो शीर्ष वरीय खिलाड़ियों के बीच खेला जाएगा। इससे पहले 1995 में दूसरी वरीयता प्राप्त स्टेफी ग्राफ ने शीर्ष वरीय अरांता सांचेज को पराजित कर खिताब जीता था।

इस बार टूर्नामेंट में सेरेना विलियम्स को शीर्ष वरीयता दी गई है। सेरेना ने 2002 में आखिरी बार रोला गैरां में खिताब जीता था, जबकि पिछले साल वह पहले दौर में ही हारकर बाहर हो गई थीं, लिहाजा वह नाकामी भुलाकर 11 साल बाद खिताब जीतना चाहेंगी। वहीं दूसरी वरीयता प्राप्त शारापोवा ने पिछले साल इटली की सारा इरानी को हराकर खिताब जीता था और उनकी नजरें लगातार दूसरी बार खिताब जीतने पर लगी होंगी।

दोनों खिलाड़ियों ने सेमीफाइनल में अलग-अलग तरीकों से जीत दर्ज की। सेरेना ने जहां इरानी को महज 46 मिनटों में शिकस्त दी, वहीं शारापोवा ने दूसरा सेट गंवाने के बाद दो बार की ऑस्ट्रेलियाई ओपेन चैंपियन विक्टोरिया अजारेंका को कड़े मुकाबले में पराजित किया। इससे पहले शारापोवा और सेरेना 15 बार आमने-सामने हो चुकी हैं जिसमें अमेरिका स्टार खिलाड़ी 13-2 से आगे रही है। शारापोवा ने अंतिम बार सेरेना को 2004 में सत्र कीअंतिम डब्ल्यूटीए चैंपियनशिप में हराया था। तब से यह रूसी खिलाड़ी सेरेना के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर पाई है।

बोल्ट और सांचेज देंगे ट्रॉफी

छह ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता जमैका के उसैन बोल्ट और आठ बार की ग्रैंडस्लैम विजेता स्पेन की अरांता सांचेज विकारियो फ्रेंच ओपेन में क्रमश: पुरुष और महिला चैंपियन को विजेता ट्रॉफी प्रदान करेंगे। फ्रेंच टेनिस फेडरेशन ने बताया कि तीन बार फ्रेंच ओपेन जीतने वाली सांचेज़ शनिवार को रोलां गैरा में महिला सिंगल्स चैंपियन को ट्रॉफी प्रदान करेंगी। पुरुष सिंगल्स रविवार को खेला जाएगा जिसमें विजेता को ओलंपिक चैंपियन बोल्ट विजेता ट्रॉफी प्रदान करेंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप