नई दिल्ली। सुरेश कलमाड़ी और अभय चौटाला की कलंकित जोड़ी को आजीवन अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त किए जाने से आक्रोशित खेल मंत्रालय ने आज भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) के खिलाफ कठोर निर्णय ले लिया है। मंत्रालय ने भारतीय ओलंपिक संघ को निलंबित कर दिया है।

खेल मंत्रालय ने आइओए को तब तक के लिए निलंबित कर दिया है जब तक कलमाड़ी और चौटाला को चुने जाने के फैसले को वो वापस नहीं लेता। गौरतलब है कि इस विषय में सरकार ने आइओए को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा था लेकिन शाम 5 बजे की समयसीमा तक आइओए ने ऐसा नहीं किया। आइओए ने जवाब में खेल मंत्रालय से 15 दिन का समय मांगा क्योंकि उसके अध्यक्ष एन.रामाचंद्रन अभी देश से बाहर हैं।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल मंत्री विजय गोयल ने आज कहा, 'सरकार गलत चीजों का समर्थन नहीं कर सकती। सरकार द्वारा जारी किया गया कारण बताओ नोटिस को गंभीरता से नहीं लिया गया बल्कि बाद में 15 दिन का अतिरिक्त समय मांगा गया। इसलिए सरकार ने फैसला लिया है कि जब तक इन नियुक्तियों (कलमाड़ी और चौटाला) को वापस नहीं लिया जाता तब तक संघ निलंबित रहेगा।' इस निलंबन तक अब भारतीय ओलंपिक संघ का सरकार की तरफ से मिलने वाली किसी भी आर्थिक सहायता, सहूलियत या खास रियायतों पर अधिकार नहीं होगा। खेल मंत्रालय ने साफ किया कि सरकार ओलंपिक चार्टर का सम्मान करती है लेकिन नियमों को ताक पर रखने को नजरअंदाज नहीं किया जाएगा।

क्रिकेट से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam