जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : किसानों के लंबे आंदोलन के बाद बोतल में बंद हुए इंडस्ट्रियल माडल टाउनशिप (आइएमटी) लगाने का अब रास्ता साफ हो गया है। इसके लिये मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अनुमति दे दी है। अब अंबाला-हिसार रोड पर आइएमटी के लिये जगह की तलाश है। पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा का आइएमटी ड्रीम प्रोजेक्ट है जिसे हुड्डा सरकार में पंजोखरा में लगाने के लिये मंजूरी मिली थी। किसानों के आंदोलन के बाद हुड्डा सरकार में यह प्रोजेक्ट ठंडे बस्ते में चला गया था। अब शहर विधायक असीम गोयल ने इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दिलवाई है। राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अंबाला में आइएमटी लगाने को लेकर घोषणा की थी। उधर, राज्यसभा सदस्य कार्तिक शर्मा की ओर से जारी बयान में कहा कि पिता विनोद शर्मा ने आइएमटी लगवाने के लिये पूरी शिद्दत के साथ लड़ाई लड़ी। सदस्य बनने के बाद इस प्रोजेक्ट को लेकर शर्मा ने भी मुख्यमंत्री से बात की थी।

----------------------

हुड्डा सरकार में कुमारी सैलजा खुद आ गई थी विरोध में

पंजोखरा के आसपास कई गांवों की जमीन अधिग्रहण कर हुड्डा सरकार में आइएमटी बनाने का प्रस्ताव था लेकिन कांग्रेसी के दिग्गज नेता भी इसके विरोध में आ गये थे। हुड्डा सरकार उपजाऊ जमीन को अधिग्रहण कर आइएमटी लगाना चाहती थी, जिसके विरोध में कई गांवों के किसान लंबें समय पर धरने पर बैठ गए थे। कुमारी सैलजा खुद आइएमटी उपजाऊ जमीन पर लगाने के विरोध में उतर आईं थी। कांग्रेस दो खेमों में बंट गई थी और एक खेमा धरने पर बैठ गया था। हालांकि विनोद शर्मा इस प्रोजेक्ट के पक्ष में रहे और जब भी मीडिया से रूबूरू हुए तो इस प्रोजेक्ट को अपना ड्रीम प्रोजेक्ट ही बताया। शर्मा कहते थे कि इस प्रोजेक्ट में रोड़ा बन रहे लोग जनता के हित में नहीं हैं, इस प्रोजेक्ट के लगने से रोजगार मिलेगा। लेकिन बाद में यह प्रोजेक्ट ठंडे बस्ते में चला गया था।

---

गोयल आइएमटी लगाने को लेकर प्रयासरत हैं

सन 2019 से विधायक असीम गोयल ने आइएमटी लगवाए जाने को लेकर प्रयासरत हैं। जिसके चलते मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आश्वासन दे दिया था। इसी के चलते अब मंजूरी भी दे दी गई है। अंबाला हिसार हाईवे पर आइएमटी लगाए जाने की योजना है। यह रिग रोड से बाहर ही व्यवस्थित की जाएगी। भडी मोड के आगे आइएमटी लगाई जा सकेगी। क्योंकि इससे आगे कुरुक्षेत्र शुरू हो जाता है। आइएमटी के लिए अनुमानित एक हजार एकड़ जमीन का अधिग्रहण करना पड़ेगा।

-असीम गोयल, विधायक, अंबाला शहर

-रोजगार के खुलेंगे अवसरआइएमटी की युवाओं में लंबे समय से मांग चल रही थी। क्योंकि युवाओं को रोजगार के लिए दूसरे शहरों में दौड़ लगानी पड़ रही हैं। जबकि आइएमटी के लगने से जिला के युवाओं के लिए रोजगार के रास्ते खुल जाएंगे। इसीलिए युवा चाहते हैं कि उन्हें नजदीक में ही रोजगार मिले।

सरकार ने मंजूरी दे दी है : गोयल

शहर के विधायक असीम गोयल ने कहा कि आइएमटी लगाने के लिये उनकी तरफ से लंबे समय से मांग की जा रही थी। इसके चलते सीएम मनोहर लाल ने मंजूरी दे दी है। अंबाला हिसार रोड पर आइएमटी लगाई जानी है। इसके लिये मुख्यमंत्री का आभार जताते हैं। इसके लगने से लोगों को रोजगार मिलेगा।

मुख्यमंत्री का धन्यवाद, पिता ने लड़ी लंबी लड़ाई :कार्तिक शर्मा

राज्यसभा सदस्य कार्तिक शर्मा की ओर से जारी बयान में कहा कि उनके पिता विनोद शर्मा ने आइएमटी लगवाने के लिये पूरी शिद्दत के साथ लड़ाई लड़ी। आइएमटी लगवाने के लिये मुख्यमंत्री मनोहर लाल का धन्यवाद करता हूं। सदस्य बनने के बाद मैंनें भी इस प्रोजेक्ट को लेकर मुख्यमंत्री से बात की थी, उन्होंने इस प्रोजेक्ट को मंजूरी देकर अंबाला के लोगों का मान बढ़ाया है।

-अभी उनके पास कोई आफिशियल नोटिफिकेशन नहीं आई है। यदि कोई ऐसी नोटिफिकेशन आएगी तो बताया जाएगा।

विक्रम सिंह, डीसी, अंबाला।

Edited By: Jagran