हजारीबाग, संस। Jharkhand News अदम्य उत्साह और साहसी अभियानों में वीरता प्रदर्शित करने के लिए हजारीबाग जिले के विवेक कुमार तिवारी को राष्ट्रपति के वीरता पदक से पुरस्कृत किया जाएगा। इसकी घोषणा स्वतंत्रता दिवस 2022 की पूर्व संध्या पर की गई। विवेक की तैनाती जम्मू और कश्मीर में है और वह वैली क्वात कमांडो के सदस्य हैं। विवेक और उनकी टीम ने कश्मीर घाटी में अब तक 50 से अधिक आतंकवादियों को मार गिराया है और इनमें से कई आतंकवादी ए प्लस प्लस श्रेणी के थे।

मिली जानकारी के मुताबिक, विवेक ने 2014 में सीआरपीएफ ज्वाइन किया था। उनकी कार्य कुशलता को देखते हुए 2017 में उनका चयन वैली क्वात कमांडो के तौर पर किया गया था। जिसका गठन भारत सरकार ने आतंकवादियों से मुकाबला करने और उन्हें मार गिराने के लिए किया है।

विवेक संत कोलंबस कॉलेज हजारीबाग के एनसीसी कैडेट भी रहे हैं। 2012 में उन्होंने आरडीसी पैरेड का नेतृत्व किया था और अशोक राजपथ पर अपना प्रदर्शन किया था। उनके बेहतर प्रदर्शन के लिए 2012 में ही बिहार के राज्यपाल देवानंद कुंवर ने सम्मानित किया था।

राष्ट्रपति का वीरता पदक के लिए नाम की घोषणा से हजारीबाग जिला वासियों में हर्ष की लहर है। कोलंबस कॉलेज के एनसीसी ऑफिसर लेफ्टिनेंट डॉक्टर एस के पांडेय ने विवेक को राष्ट्रपति का वीरता पदक मिले पर खुशी व्यक्त किया और बताया कि विवेक एनसीसी के कैडेटों के लिए प्रेरणा के पात्र हैं।

Edited By: Sanjay Kumar