छात्र की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस

संवाद सूत्र, हाथरस : सासनी कोतवाली क्षेत्र के गांव भोजगढ़ी में मंगलवार को छात्र की हत्या के मामले की गुत्थी सुलझाने में पुलिस जुटी हुई है। पुलिस को कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं। छात्र की हत्या किसने और क्यों की, इस पर गहराई से पड़ताल की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भले ही डूबने से मौत की बात सामने आई है, लेकिन घटना स्थल के हालात हत्या की तरफ इशारा कर रहे थे। स्वजन ने भी हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाया है। सासनी के गांव भोजगढ़ी निवासी नौ वर्षीय छात्र आरिस 15 अगस्त को विद्यालय गया था। वहां से निकाली गई तिरंगा यात्रा में भी वह शामिल हुआ था। इसके फोटो और वीडियो भी गांव में मिले हैं। कार्यक्रम के बाद वह घर से नहीं लौटा। पुलिस ने स्कूल में जानकारी की तो वहां से बच्चे के गायब होने के बार में पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्चे की मौत का कारण डूबने से सामने आया है, लेकिन शव निर्वस्त्र था, चेहरे पर चोट के निशान हत्या की तरफ इशारा कर रहे थे। बच्चे के कपड़े भी कहीं नहीं मिले हैं। पुलिस इन सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। एसपी देवेश कुमार पांडेय की मानें तो घटना में छानबीन जारी है। मौत का कारण डूबने से होना पाया गया है। कुछ अहम सुराग मिले हैं, जल्द ही घटना का खुलासा किया जाएगा। दहेज की मांग को लेकर मारपीट कर रहे ससुरालीजन संवाद सूत्र, सादाबाद : बिसावर निवासी लवी चौधरी ने ससुरालीजनों पर दहेज की मांग को लेकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। तहरीर कोतवाली में दी है। बताया है उसके पिता ने 29 जनवरी 2017 को लाखों रुपये खर्च कर उसका विवाह मथुरा निवासी युवक के साथ की थी। शादी के बाद से ही उसके साथ तीस लाख रुपये की मांग ससुरालीजनों द्वारा करते हुए उसका उत्पीड़न किया जा रहा है। आरोप है कि 15 अगस्त वाले दिन उसके साथ मारपीट करते हुए जान से मारने की कोशिश की गई। उसके साथ रोज मारपीट की जा रही है। पीड़िता ने इस संबंध में आवश्यक कदम उठाते हुए न्याय दिलाने का अनुरोध पुलिस से किया है।

Edited By: Jagran