जागरण संवाददाता, पटियाला : यहां लघु सचिवालय में डीसी दफ्तर के आगे पटवारियों ने अपनी मांगें पूरी करवाने को लेकर रोष प्रदर्शन किया। द रेवेन्यू पटवार यूनियन द्वारा सुबह करीब दस बजे धरना शुरू किया गया और करीब तीन बजे तक चला। इस दौरान पटवारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान यूनियन के जिला प्रधान गुरबख्श सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने पटवारियों के खाली पड़ पद को भरने के बजाय 1056 पद खत्म कर दिए हैं। सरकार के इस फैसले को लेकर पटवारियों में काफी रोष है। जिसके चलते मजबूरन पटवारियों को संघर्ष का रास्ता अपनाना पड़ा।

उन्होंने कहा कि राज्य भर में पटवारियों के 4716 पद है और सिर्फ 1700 पटवारी काम कर रहे हैं। पिछले लंबे समय से पटवारी अपने सर्कल की जगह एडिशनल सर्कल का काम कर रहे थे। पर कुछ समय से खाली पड़ पदों को भरने की मांग को लेकर पटवारियों ने एडिशनल पद का काम छोड़ रखा था। सरकार ने पटवारियों की मांगें पूरी करने के बजाय पदों में कटौती कर दी, जबकि पटवारियों के करीब आठ हजार पद होने चाहिए। उन्होंने कहा कि कोई भी पटवारी एडिशनल सर्कल का काम नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार पटवारियों की मांगों को पूरा नहीं करती, तक यूनियन का संघर्ष जारी रहेगा।

Edited By: Jagran