क्या है ब्वाइलिंग वाटर चैलेंज

अमेरिका के शिकागो, नॉर्थईस्ट और मिडवेस्ट एरिया ये सब एेसे इलाके हैं जहां ठंड का प्रकोप अपने शिखर पर है। खबर तो ये है कि विश्व प्रसिद्घ नियाग्रा फाल्स का पानी भी जमने लगा है। एेसे में इस सर्दी को देखते हुए यहां स्कूल, फ्लाइट्स और यातायात या तो पूरी तरह से बंद है या काफी कम जगह काम कर हे हैं। जाहिर है लोग अपने घरों में ही रहने के लिए मजबूर हैं। अपना समय बिताने के लिए वहां लोगों ने एक अलग गेम वायरल कर दिया है जिसे ब्वाइल वाटर चैलेंज के नाम से बुलाया जा रहा है। इसके तहत लोग एक बर्तन में उबलता पानी लाकर घर के बाहर खुले में हवा में उछाल कर ये जांच करते हैं कि वास्तव में तापमान जमा देने की हद तक ठंडा है या नहीं। वे हवा में पानी उबाल कर उछाल देते हैं आैर सबजीरो तापमान में इस पानी को धुएं का ढेर आैर छोटे बर्फ के कणों में बदलते देखने का मजा लेते हैं।

जानलेवा हो रही है ठंड

फाॅक्स न्यूज के मुताबिक लोग इस ठंड की अंटार्कटिका के मौसम से तुलना कर रहे हैं। हांलाकि वर्तमान मैसम को देखें तो ये फिल्हाल यहां की सर्दी अंटार्कटिका से भी ज्यादा है। हाल में तो शिकागो में सुबह का तापमान शून्य से भी 30 डिग्री नीचे चला गया था। अभी स्थितियां कोर्इ खास बेहतर नहीं हैं आैर शिकागो सहित पूरे उत्तरी इल्योनिस तापमान शून्य से 27 डिग्री नीचे तक जा सकता है जबकि हवा में ठंड का स्तर 55 डिग्री तक नीचे हो सकता है। हालात को देखते हुए मौसम वैज्ञानिकों ने चेतावनी जारी की है कि स्थितियां आैर भी खराब हो सकती हैं। जो जानलेवा बननी शुरू भी हो गर्इं हैं।

ठंड के कहर में भी मस्ती

हालांकि लोग परेशान आैर काफी हद तक डरे हुए हैं पर फिर भी वो कुछ देर मन बहलाने आैर मस्ती करने के तरीके ढूंढ ले रहे हैं। इसके चलते कर्इ वीडियो वायरल हो रहे हैं। इनमें लोग घर में पानी को खौलाकर बाहर हवा में उछालते हैं, आैर ये पानी नीचे नहीं गिरता बल्कि हवा में ही बर्फ बन कर जम जाता है या सघन भाप बन जाता है। गर्म पानी को हवा में उड़ाकर बर्फ बनाने के इस प्रयोग को एमपेम्बा प्रभाव कहा गया है। वहीं सोशल मीडिया पर ये ब्वाइलिंग वाॅटर चैलेंज के नाम से ट्रेंड हो रहा है। इस स्टंट में पानी वास्तव में बर्फ नहीं बनाता है, बल्कि बस वाष्पकणों आैर वाष्पित हो कर एक बादल में संघनित हो जाता है। हालांकि ये बादल चंद सेकंड के भीतर गायब हो जाता है, फिर भी देखने वालों को ये यह एक रोमांचकारी आैर मजेदार दृश्य लगता है । वास्तव में वायुमंडल के फ्रीजिंग तापमान पर या उससे नीचे होने पर हिमपात होता है और तब हवा में नमी की न्यूनतम मात्रा होती है। एेसे में यदि जमीनी तापमान बेहद ठंडा हो तो पानी बर्फ के रूप में जमीन तक पहुंच जाता है। ये नया वायरल खेल इसी का नमूना है।

Posted By: Molly Seth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप