बेकसूर को 25 साल की जेल 

समाचार एजेंसी आईएनएस की खबर के अनुसार एक व्‍यक्‍ति को अमेरिका की जेल में 25 साल बिताने के बाद बेगुनाह पाया गया। खबरों की माने तो ये मामला अमेरिका में पेंसेलवेनिया राज्‍य के फिलाडेल्फिया शहर में पिछले सप्‍ताह बुधवार को एक मामले की जांच के दौरान एक अनोखा फैसला सुनाया गया। ये केस अपने आप में एक रिकॉर्ड बताया जा रहा है। रिर्पोट में पता चला है कि एंथनी राइट नाम के एक व्‍यक्‍ति को 1991 में बलात्कार और हत्या के एक अपराध में बिना पेरोल के उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी। बाद में डीएनए जांच में साबित हुआ कि राइट ने ये अपराध दरसल किया ही नहीं और वो बेकसूर है। 

मिलेगा भारी मुआवजा

जांच की रिर्पोट देखने के बाद फैसला दिया गया कि राइट को फौरन रिहा किया जाए। इसके साथ ही उसे भारी भरकम मुआवजा देने का भी आदेश दिया गया। इस आदेश में मुआवजे की राशि एक करोड़ रुपये तय की गई। हालाकि 25 साल की निर अपराध सजा काटने के बाद ये मुआवजा कितना मायने रखता है ये तो इसे भुगतने वाला ही बता सकता है। इस बीच पता चला है ऐसी जांच के बाद निर्दोष पाये जाने राइट अकेले नहीं है।

और भी हैं खराब जांच के शिकार 

इस बीच अमेरिका में आपराधिक जांच में डीएनए साक्ष्य को बढ़ावा देने वाले संगठन इनोसेंस प्रोजेक्ट के एक बयान से पता चला है कि इन हालात के शिकार होने वाले राइट पहले व्‍यक्‍ति नहीं हैं। उनके अनुसार पुलिस की खराब जांच प्रक्रिया के कई पीड़ित और भी हैं। ये भी दावा किया जा रहा है कि पुलिस ने संभवत राइट को पहले से तैयार लिखित अपराध स्‍वीकार करने वाले कागजों पर हस्ताक्षर करने के लिए मार पीट की धमकी देकर मजबूर किया था। इनोसेंस प्रोजेक्ट के अनुसारद राइट अमेरिका के 344वें ऐसे व्यक्ति हैं जो डीएनए जांच में निर्दोष निकले हैं। 

 

Posted By: Molly Seth