अनोखा मामला

ये आप मे एक अजीब किस्‍सा है पर सच्‍चा है, यूपी के मुरादाबाद में एक सरकारी अधिकारी ने अपने एक सहकर्मी को बकायदा एक ऑफिशियल शिकायतपत्र लिखा जिसका विषय था '19 तीलियों वाली माचिस की डिब्बी न लौटाने की शिकायत'। जैसे ही किसी ने यह लेटर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया, यह जंगल की आग की तरह वायरल हो गया। आम लोग ही नहीं पुलिस के कुछ अधिकारी भी इस शिकायती पत्र पर अजीब अजीब कमेंट करते देखे गए। इस पत्र को उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड के एक असिस्टेंट इंजीनियर ने अपने ऑफिस में ही काम करने वाले एक असिस्टेंट को लिखा है। यह लेटर 23 जनवरी को लिखा गया था और इसमें एक माचिस की डिब्बी जिसमें 19 तीलियां मौजूद थीं, को ना लौट आने की शिकायत की गई थी।
 
लेटर लिखने और पाने वालों ने भी सोशल मीडिया पर इसे पढ़ा
सबसे रोचक बात तो यह है कि यह लेटर जिस मोहित पंत नाम के व्यक्ति को लिखा गया और जिस असिस्टेंट इंजीनियर सुशील कुमार ने लिखा था उन्‍हें भी इसकी जानकारी लोगों के फोन से हुई। लोगों ने बताया कि यह शिकायती पत्र सोशल मीडिया पर जमकर शेयर हो रहा चल रहा है। यह जानने के बाद मोहित ने सुशील कुमार को फोन किया। इसके बाद ही ये पता चला कि पत्र सही था या गलत। 
 
मच्‍छरों के चलते मांगनी पड़ी माचिस 
वैसे बता दें कि रोचक बातों का सिलसिला यहीं खत्‍म नहीं होता बलकि माचिस मांगने की वजह भी बड़ी मजेदार थी। इस चिट्ठी में सुशील कुमार ने लिखा था कि आजकल ऑफिस में देर रात तक काम करना पड़ रहा है और यहां पर हमें मच्छर बहुत परेशान करते हैं। ऐसे में मॉर्टिन जलाने के लिए जो एक माचिस हमारे पास थी, वो 23 जनवरी को हमने आपको दी थी, लेकिन 1 फरवरी तक भी वो माचिस हमें लौटाई नहीं गई। इसलिए निवेदन है कि पत्र प्राप्ति के 3 दिनों के भीतर वो माचिस लौटना सुनिश्चित करें।
 
प्रदेश पुलिस के अधिकारी भी ले रहे हैं मजे
लेटर वायरल होने की बड़ी वजह उस पर आ रहे मजेदार ट्वीट भी हैं जो उत्‍तर प्रदेश के कुछ पुलिस अधिकारियों ने मजे लेने के लिए किए हैं। अब जाहिर है ऐसा अजीब और फनी लेटर सोशल मीडिया पर वायरल होगा तो ऐसे रिएक्‍शन भी आयेंगे ही। इसीलिए कई अधिकारी ही इस लेटर के पर ट्वीट करते दिखे किसी ने कहा कि अगर वो माचिस ना लौटाएं तो बताइएगा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कई लोग इस शिकायतकर्ता की हैंडराइटिंग की खूबसूरती की तारीफ करते भी देखे गए।
 
अजीब शिकायत पत्र का अजीब सच
बहरहाल इस अनोखे पत्र की पूरी कहानी भी अजीब ही है, जो खुद सुशील कुमार ने बताई है। उनका कहना है कि एक अनट्रेंड कंप्यूटर ऑपरेटर ने हाल ही ऑफिस ज्वाइन किया था। उसने एक ऑफिशियल लेटर का फॉर्मेट उनसे मांगा तो उदाहरण के तौर पर उन्होंने माचिस से जुड़ा यह किस्‍सा ड्राफ्ट करके उसे दे दिया। सुशील का कहना है कि उन्‍होंने यह लेटर कहीं पर भी पोस्ट नहीं किया। ऐसे में लगता है कि लेटर को लिखने के दौरान ही ऑफिस के किसी व्यक्ति ने मोबाइल पर उसकी फोटो ले ली और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। फिलहाल माचिस की 19 तीलियों की यह अनोखी कहानी लोग सोशल मीडिया पर खूब मजे लेकर पढ़ रहे हैं और इन दो सरकारी कर्मचारियों की खूब मौज भी ली जा रही है। 
 

Posted By: Molly Seth