मोतिहारी। संग्रामपुर प्रखंड क्षेत्र के दमड़ी अशर्फी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के परिसर में सात साल पूर्व निर्मित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का उद्घाटन बुधवार को गोविदगंज विधायक सुनील मणि तिवारी, जिला शिक्षा अधिकारी संजय कुमार, बीडीओ ²ष्टि पाठक और बीईओ राम शोभित ने संयुक्त रूप से किया। इसके बाद विद्यालय के कमरों का जब अधिकारियों ने निरीक्षण किया तो भवन की दुर्दशा को देखकर जिला शिक्षा पदाधिकारी हैरान रह गए। उन्होंने व्यवस्था पर क्षोभ व्यक्त करते हुए मौके पर मौजूद बीईओ राम शोभित को जमकर फटकार लगाई। निरीक्षण के क्रम में भवन बदहाल मिला। दीवारों के प्लास्टर झड़ गए थे। दीवारों पर शैवाल और छोटी-मोटी झाड़ियों ने कब्जा जमा लिया है। चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा हुआ था। बच्चियों के रहने के लिए जिन कमरों में आनन-फानन में बिछावन लगाए गए थे उनमें से कई कमरों में किवाड़ ही गायब थे। इस स्थिति को देखकर डीईओ ने प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी को इसमें तत्काल सुधार करने का निर्देश भी दिया। अपने संबोधन में विधायक और डीईओ ने लड़कियों की शिक्षा पर विशेष जोर देने का अनुरोध किया। ज्ञात हुआ कि इस विद्यालय 52 बच्चियों का नामांकन हुआ है लेकिन मध्य विद्यालय से टैग कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की छात्राओं को लाकर संख्या पूरी करने का प्रयास किया गया था। इसकी पोल स्थल पर ही खुल गई। बताया गया कि इस विद्यालय में एससी/एसटी और अल्पसंख्यक समुदाय की बच्चियों को उच्च शिक्षा आवासीय स्तर से दी जाएगी। इसके लिए नि:शुल्क कॉपी किताब, ड्रेस, भोजन, खेल की सामग्री सहित तमाम जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। विधायक सुनील मणि तिवारी ने स्थानीय मुखिया सुदिष्ट कुमार से अनुरोध किया कि वे अपने स्तर से विद्यालय के झाड़-झंखाड़ की सफाई और प्रकाश की व्यवस्था करें जिसे मुखिया ने स्वीकार लिया। डीईओ संजय कुमार ने कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में लड़कियों को शिक्षा और लड़कों को संस्कार देना सबसे ज्यादा जरूरी है। यदि एक लड़की शिक्षित हो जाती है तो आनेवाली पीढ़ी भी शिक्षा प्राप्त कर लेगी। इसलिए सरकार ने समाज के अंतिम तबके तक के साधन विहीन बच्चियों की शिक्षा के लिए इन विद्यालयों की स्थापना की है। कहा कि अभी कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में कुछ कुव्यवस्था हैं जिन्हें जल्द ही दूर कर लिया जाएगा। इसी तरह बीडीओ ²ष्टि पाठक, बीईओ राम शोभित,एमएलसी प्रतिनिधि आशुतोष पांडेय,भाजपा मंडल अध्यक्ष वकील कुमार चौधरी आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। मौके पर विद्यालय प्रधान अनिल पांडेय, मंच संचालन शिक्षक पुरुषोत्तम तिवारी तथा धन्यवाद ज्ञापन शिक्षक संजय द्विवेदी ने किया।

----------

इनसेट

कुव्यवस्था के बीच कैसे होगी पढ़ाई

उद्घाटन के समय जिस प्रकार लापरवाही और कुव्यवस्था विद्यालय में व्याप्त थीं उस माहौल में गरीब बच्चियों की शिक्षा किस प्रकार पूरी होगी और उनका भविष्य क्या होगा। इसपर एमएलसी प्रतिनिधि आशुतोष पांडेय और प्रखंड प्रतिनिधि सुशील द्विवेदी ने अफसोस जाहिर किया। कहा कि कस्तूरबा गांधी विद्यालय की व्यवस्था में यदि सुधार नहीं होगा तो इसके लिए एमएलसी महेश्वर सिंह द्वारा सदन में प्रश्नकाल के दौरान मुदा उठाकर सरकार तक इस मामले को पहुंचाया जाएगा।

Edited By: Jagran