लखीसराय, जागरण संवाददाता। शारदीय नवरात्रि एवं दुर्गा पूजा में पूजन सामग्री, फल एवं फूल से लेकर हर चीज की कीमत बढ़ जाती है। पहले से ही महंगाई चरम पर है। बावजूद इसके दुर्गा पूजा में आस्था भारी पड़ रही है। दुर्गा पूजा को लेकर पूजा समिति द्वारा भव्य और धूमधाम से मनाने की परंपरा जिले में रही है। हर साल की तरह इस बार भी पूजा समितियों द्वारा मंदिर व पूजा पंडालों की भव्य सजावट की गई है।

लखीसराय जिले में जिला प्रशासन ने 110 पूजा पंडालों को लाइसेंस दिया है। बड़हिया स्थित शक्तिपीठ जगदंबा मंदिर सहित जिले भर के मंदिरों एवं पूजा पंडालों की सजावट पर साढ़े तीन करोड़ से अधिक की राशि खर्च होने का अनुमान है। सिर्फ नगर परिषद लखीसराय क्षेत्र में दुर्गा मंदिर और पूजा पंडाल से जुड़ी पूजा समितियों द्वारा 50 लाख रुपये से अधिक का बजट बनाया है।

बड़ी राशि लगाने में श्रद्धालुओं ने किया सहयोग

खास बात है कि जिले में पूजा समिति द्वारा इतनी बड़ी राशि को चंदा के माध्यम से एवं श्रद्धालुओं के सहयोग से पूरा किया जाता है। पूजा समिति से जुड़े लोगों की मानें तो हर साल महंगाई बढ़ रही है। इस कारण हर साल बिजली डेकोरेशन, पंडाल निर्माण और अन्य सजावट में बजट बढ़ जाता है। पूजा समिति द्वारा सबसे अधिक राशि बिजली डेकोरेशन पर खर्च की जाती है। 

मुख्यालय के पंडालों की सजावट पर 50 लाख खर्च शहर के नया बाजार बड़ी देवी मंदिर, मां मनोकामना दुर्गा मंदिर हसनपुर, बाजार समिति स्थित दुर्गा मंदिर, कबैया रोड स्थित दुर्गा मंदिर, पचना रोड स्थित भारत माता मंदिर, पंजाबी मोहल्ला स्थित दुर्गा मंदिर एवं काली मंदिर, नया बाजार अस्पताल गली दुर्गा मंदिर एवं काली मंदिर, पुरानी बाजार में छोटी दुर्गा मंदिर, थाना चौक स्थित शिव दुर्गा मंदिर, विद्यापीठ चौक स्थित महावीर दुर्गा मंदिर, नया बाजार गोपाल भंडार गली दुर्गा मंदिर, रजौना चौकी दुर्गा मंदिर के अलावा चितरंजन रोड स्थित अभिमन्यु चौक और महावीर स्थान में भारत माता पूजा समिति द्वारा भव्य और आकर्षक पंडाल, बिजली एवं फूलों की सजावट की गई है।

खर्च की जाती है 50 लाख से अधिक की राशि

अनुमान के अनुसार इन मंदिरों एवं पंडालों में सजावट पर 50 लाख से अधिक की राशि खर्च की जाती है। शहर में सबसे अधिक सजावट बड़ी देवी और छोटी देवी मंदिर में कई जाती है। छोटी दुर्गा मंदिर पूजा समिति के सचिव सुरेश ड्रोलिया, शिवदुर्गा मंदिर के कार्यकारी अध्यक्ष डा. पंकज कुमार का कहना है कि लगातार बढ़ती महंगाई से बजट बढ़ता जा रहा है फिर भी भक्तों की आस्था बढ़ती जा रही है। हर साल खर्च का बजट भी बढ़ जाता है।

Edited By: Mukesh Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट