नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली में विश्व व्यापार संगठन (WTO) के मंत्री स्तर के सदस्यों की दिल्ली में बैठक जारी है। दो दिवसीय यह बैठक 14 मई तक चलेगी। इस बैठक में चीन, मिस्र, इंडोनेशिया, मलेशिया, टर्की समेत 16 विकासशील देशों के मंत्री और अधिकारी कई महत्वपूर्ण मामलों पर चर्चा करेंगे।

बता दें कि WTO (World Trade Organisation) की इस बैठक में 16 विकासशील देशों के अलावा 6 सबसे कम विकसित देशों के मंत्री और अधिकारी भी शामिल हो रहे हैं।

विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) एक बहुपक्षीय संस्था है जो अंतरराष्ट्रीय व्यापार का नियमन करती है। इसकी स्थापना पहली जनवरी 1995 को हुई और इसका मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा शहर में है। फिलहाल 164 देश इसके सदस्य हैं। भारत शुरू से ही डब्ल्यूटीओ का सदस्य रहा है। आज विश्व का 98 फीसद व्यापार डब्ल्यूटीओ के दायरे में होता है। 

डब्ल्यूटीओ का मकसद संरक्षणवाद (प्रोटेक्शनिज्म) को खत्म कर भेदभावरहित, पारदर्शी और मुक्त व्यापार व्यवस्था बनाना है ताकि सभी देश एक-दूसरे के साथ बिना किसी बाधा (अत्यधिक टैरिफ या प्रतिबंध) के व्यापार कर सकें।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस