Move to Jagran APP

गढ़चिरौली में दो महिला नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, 16 लाख रुपये का रखा गया था इनाम

Women Naxalites surrendered सुरक्षा बलों के साथ कई मुठभेड़ों में शामिल दो महिला नक्सलियों ने आज पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। दोनों पर 16 लाख रुपये का इनाम रखा गया था। महिला नक्सली प्रतिबंधित माओवादी संगठन की प्लाटून पार्टी कमेटी की सदस्य थीं। इसमें कहा गया है कि प्रमिला बोगा 20 मुठभेड़ों और दो आगजनी से संबंधित अपराधों सहित 40 मामलों में नामजद है

By Agency Edited By: Mahen Khanna Thu, 11 Jul 2024 04:41 PM (IST)
Women Naxalites surrendered नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण।

गढ़चिरौली, पीटीआई। Women Naxalites surrendered महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में दो महिला नक्सलियों ने आज पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। दोनों नक्सली सुरक्षा बलों के साथ कई मुठभेड़ों में शामिल रहे हैं और दोनों पर 16 लाख रुपये का इनाम रखा गया था।

पुलिस और CRPF के सामने आत्मसमर्पण

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्रमिला सुखराम बोगा उर्फ ​​मंजूबाई (36) और अखिला शंकर पुडो उर्फ ​​रत्नमाला (34) ने गढ़चिरौली पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के अधिकारियों के सामने आत्मसमर्पण किया।

दोनों पर था 8-8 लाख का इनाम

गढ़चिरौली के पुलिस अधीक्षक (एसपी) ने कहा कि महिला नक्सली प्रतिबंधित माओवादी संगठन की प्लाटून पार्टी कमेटी की सदस्य थीं। इसमें कहा गया है कि प्रमिला बोगा 20 मुठभेड़ों और दो आगजनी से संबंधित अपराधों सहित 40 मामलों में नामजद है और उस पर 8 लाख रुपये का इनाम था।

चार हत्या और दो मुठभेड़ के मामले दर्ज

अखिला पुडो के खिलाफ सात मामले दर्ज हैं। इनमें से चार हत्याएं और दो मुठभेड़ के मामले हैं। पुडो को गिरफ्तार करने के लिए 8 लाख रुपये का इनाम भी रखा गया था। आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों के लिए सरकार की नीति के तहत बोगा और पुडो को उनके पुनर्वास के लिए 5-5 लाख रुपये मिलेंगे। पुलिस के अनुसार, 2022 से अब तक 21 कट्टर नक्सलियों ने गढ़चिरौली पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है।