भुवनेश्वर, आईएएनएस। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बुधवार को कहा कि धर्म के नाम पर हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर उन्हें दंडित किया जाएगा। 

मुख्यमंत्री पटनायक ने हिंसा प्रभावित भद्रक का दौरा किया और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने इसके साथ कई क्षेत्रों का भी निरीक्षण किया। बता दें कि सोशल मीडिया पर हिंदू देवताओं पर अपमानजनक टिप्पणी के बाद पिछले हफ्ते हिंसा हुई थी।

पटनायक ने कहा कि हिंसक घटनाओं के लिए जिम्मेदार सभी अभियुक्तों को कानून के अनुसार दंडित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा, 'हमारी राज्य सरकार धर्म के नाम पर विवाद और हिंसा पैदा करने वाले विभाजनकारी ताकतों का मुकाबला करने के लिए ठोस कदम उठाएगी।' उन्होंने कहा, 'सांप्रदायिक हिंसा में जिन लोगों को नुकसान हुआ है उन्हें उचित मुआवजा दिया जाएगा। जिला प्रशासन को तीन दिनों के भीतर नुकसान का आकलन करने का आदेश दिया गया है।'

शहर में इंटरनेट और बस सेवाएं बहाल की जा रही हैं और शहर में स्थिति धीरे-धीरे सामान्य पटरी पर लौट रही है। शहर में शैक्षिक संस्थानों और अन्य प्रतिष्ठानों को खोला जा रहा है। जिला प्रशासन ने सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक कर्फ्यू में राहत प्रदान दी है।

ओडिशा पुलिस अपराध शाखा के साइबर सेल ने सोशल मीडिया पर अफवाहों और आपत्तिजनक सामग्रियों को परिचालित करने के लिए पांच व्यक्तियों की पहचान और उनसे पूछताछ की, जिसके कारण शहर में हिंसा हुई।क्राइम ब्रांच के विशेष महानिदेशक बी.के. शर्मा ने कहा कि पांचों व्यक्ति भद्रक के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेता के विवादित बोल, कहा- कश्मीर समस्या के लिए भारत जिम्मेदार

Posted By: Mohit Tanwar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप