नई दुनिया ब्यूरो, रायपुर। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न नहीं देने पर भाजपा ने केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पुरस्कार देने में वह परिवारवाद से बाहर नहीं निकल पा रही है। सरदार पटेल को कांग्रेसी अपना नेता बताते हैं, लेकिन उन्हें 41 साल बाद भारत रत्न दिया गया। इस दौरान जवाहरलाल नेहरू 17 साल, इंदिरा गांधी 16 साल और राजीव गांधी पांच साल प्रधानमंत्री रहे थे।

भारत रत्न से संबंधित अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रायपुर में रविवार को आयोजित पत्रकारवार्ता में रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मौलाना अबुल कलाम आजाद को 1992 और लोकनायक जयप्रकाश नारायण को भाजपा की सरकार आने के बाद 1999 में भारत रत्न दिया गया। उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के उस बयान पर पलटवार किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि भाजपा चोर है, उसे हटा देना चाहिए।

भाजपा सांसद ने कहा कि कांग्रेस के शहजादे अपनी दादी और पिता की बात तो करते हैं, लेकिन उनसे सीख नहीं लेते। कभी भी नेहरू, इंदिरा और राजीव गांधी ने किसी विपक्षी के लिए असंसदीय भाषा का इस्तेमाल नहीं किया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस