मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्‍ली, एजेंसी। Weather Update मुंबई के लोगों को भारी बारिश से राहत नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने पिछले हफ्ते मुंबई में भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया था जिसे अब ऑरेंज Alert में बदल दिया गया है। विभाग ने ठाणे और पालघर समेत कुछ इलाकों में सोमवार को भारी से ज्‍यादा भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा दिल्‍ली-एनसीआर के इलाकों में भी गरज चमक के साथ हल्‍की बारिश हो सकती है। वहीं मध्य प्रदेश के उज्जैन, भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, जबलपुर संभाग सहित कई स्थानों पर तेज बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने आज भी सूबे के 20 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

मौसम विज्ञान विभाग (The Indian Meteorological Department, IMD) ने सोमवार को महाराष्ट्र, ओडिशा और उत्तर गुजरात के कुछ हिस्सों में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है। गुजरात में मछुआरों को एक अगस्त तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। राज्य आपदा अभियान केंद्र के मुताबिक, रविवार को वलसाड के कपराडा, भरूच के नेतरंग और गुरुदेश्वर में 54, 48 और 34 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई।

मौसम विभाग ने कहा है कि मध्‍य राजस्‍थान और उत्‍तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इससे मध्‍य, पश्चिमी और उत्‍तर पश्चिमी भारत के इलाकों में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश हो सकती है। विभाग के मुताबिक, कोंकण, राजस्‍थान और गुजरात के कुछ इलाकों में अगले 24 घंटों के दौरान बेहद भारी बारिश का अनुमान जताया है। यही नहीं देश के पश्चिमी तटवर्ती इलाकों में भी भारी बारिश का पूर्वानुमान है। 

असम के बारापेट जिले में बाढ़ के कारण एक और व्‍यक्ति की मौत हो गई जिससे मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 82 हो गया है। राज्य के 21.68 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। उत्तर बिहार में बाढ़ ने एक बार फि‍र कोहराम मचाना शुरू कर दिया है। बाढ़ से पूरे राज्य में करीब 85 लाख लोग प्रभावित हैं। बाढ़ प्रभावित जिलों में शिवहर, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार और पश्चिम चंपारण शामिल हैं। बिहार में बाढ़ से अब तक करीब 140 लोगों की मौत हो चुकी है। रविवार को भी बाढ़ और वर्षाजनित हादसों में 13 की मौत हो गई।

राजस्थान में भी भारी बारिश से कोटा और बूंदी में बाढ़ के हालात बन गए हैं। कई इलाकों में 7 से 8 फीट तक पानी भर गया है। जम्मू-कश्मीर में रविवार को भी मूसलाधार बारिश से कई जगहों पर भूस्खलन हुआ। पूर्व बिहार में खगड़िया में बागमती लाल निशान से ऊपर बह रही है। खगड़िया के चेरीखेरा पंचायत में फिर से बाढ़ का पानी घुस गया है। समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के हायाघाट-थलवारा स्टेशनों के बीच बाढ़ का पानी खतरे के निशान से ऊपर जाने से ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है। सात ट्रेनें रद कर दी गई हैं, कई को परिवर्तित मार्ग से चलाया जा रह है।  

वेदर ब्‍यूरो (Weather Bureau) की रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई में पहली जुलाई से सक्रिय हुए मानसून की वजह से जुलाई महीने में हुई भारी बारिश ने पिछले पांच साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इस महीने में महानगर में 1,268.4 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई है। इससे पहले साल 2014 में 1,468.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, जुलाई महीने में सबसे ज्‍यादा बारिश पहली और दूसरी जुलाई को 375.2 मिलीमीटर दर्ज हुई। इसके बाद 26 और 27 जुलाई को 219.2 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। अधिकारियों ने बताया कि महाराष्ट्र के नासिक क्षेत्र में बीते चार दिनों की भारी बारिश से गंगापुर बांध में पानी कुल भंडारण क्षमता का 74 फीसद हो गया है। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप