नई दिल्ली,एजेंसी। देश के कई हिस्सों में मूसलधार बारिश का दौरा जारी है। भारी बारिश के कारण कई शहरों में बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है। स्काइमेट के अनुसार देश के कई हिस्सों में 20 से 25 अगस्त तक हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश से बाढ़ के कारण काफी तबाही हो गई है। कई राज्यों में जान माल का भारी नुकसान भी हुआ है।

उत्तराखंड में कुदरत अपना कहर बरपा रही है, रविवार को यहां बादल फटने के बाद 50 से अधिक गांवों में जन जीवन बुरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है। 

उत्तराखंड में बारिश का कहर
राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तरकाशी जिले में बादल फटने के कारण प्रभावित हुए क्षेत्रों का दौरा किया। उत्तराखंड सरकार तीन हेलीकाप्टरों का उपयोग कर रही है और प्रभावित गांवों में देहरादून/अरकोट से राहत सामग्री जैसे की पीने का पानी, खाने के पैकेट, कंबल और दवाइयां भेजी जा रही है। 

 
राज्य के आराकोट न्याय पंचायत के गांवों में मृतक संख्या 13 पहुंच गई, जबकि लगभग 15 लोग अब भी लापता बताए जा रहे हैं। हालांकि, जिला प्रशासन छह से सात लोगों के लापता होने की पुष्टि कर रहा है। इन गांवों में 50 से 60 लोग चोटिल भी हुए हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, आइटीबीपी, वायुसेना, आपदा प्रबंधन विभाग, पुलिस, पीएसी और राजस्व विभाग 300 से ज्यादा सदस्यों की टीमें प्रभावित गांवों में बचाव एवं राहत कार्यों में जुटी हुई हैं। वहीं, देहरादून के मालदेवता इलाके में पिकनिक मनाने गया परिवार के सात सदस्य वाहन समेत नदी में बह गए। इनमें से छह को एसडीआरएफ ने बचा लिया, जबकि एक महिला की मौत हो गई।

हिमाचल में फंसे मंत्री को बचाया गया

   
हिमाचल प्रदेश के मंत्री आरएल मारकंडा काजा से आज शिमला पहुंचे। वे पिछले 3 दिनों से काजा में फंसे हुए थे। उन्होंने कहा कि मैं काज़ा, स्पीति में पिछले 3 दिनों से फंसा हुआ था क्योंकि, बारिश के कारण सड़कें बंद थीं। 127 लोग भी बर्फबारी के कारण चंद्रताल में अटक गए थे जिन्हें बचाया गया है।

दिल्ली में बढ़ा यमुना का स्तर

 
  

दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर से बढ़कर 205.94 मीटर पर पहुंच गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) के पूर्वानुमान के मुताबिक, इस सप्ताह के अंत में 24 अगस्त (शनिवार) और 25 अगस्त (रविवार) को हल्की बारिश की संभावना है।  पुराना लोहा पुल को पैदल यात्रियों और वाहनों के आवागमन के लिए बंद कर दिया गया है।

मध्य प्रदेश में केरवा डैम के खुलने के बाद बढ़ा जल स्तर 

केरवा डैम के फाटकों के खुलने के बाद जल स्तर बढ़ने से नगर निगम और फायर ब्रिगेड की एक टीम द्वारा 2 मछुआरों को बचाया गया।

पंजाब में फसल तबाह 
     

पंजाब राज्य में लगातार बारिश के कारण आनंदपुर साहिब के लोधीपुर गांव में बाढ़ आ गई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि गांव के निचले इलाकों के घरों में पानी भर गया है। साथ ही उनकी फसल भी खराब हो गई है।

आने वाले दिनों में देश के कई हिस्सों में होगी बारिश 
स्काईमेट के अनुसार 20 और 21 अगस्त को मध्य प्रदेश और विदर्भ के कुछ हिस्सों में भारी बारिश होगी, जबकि छत्तीसगढ़ में बारिश कम होगी। पूर्वी राजस्थान में भी इस  दौरान कुछ बारिश हो सकती है। 22 अगस्त को छत्तीसगढ़, विदर्भ में छिटपुट बारिश के साथ मध्य भारत से बारिश कम होगी।

22 अगस्त को, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु और रायलसीमा के अलगह-अलग हिस्सों में बारिश देखी जाएगी 24 अगस्त को भी ऐसा ही मौसम बना रहेगा। 25 अगस्त को तटीय कर्नाटक और केरल में बारिश नहीं होगी। दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और आंतरिक तमिलनाडु के अलग-अलग हिस्सों में हल्की बारिश देखी जा सकती है।

हिमाचल में बाढ़ 


हिमाचल प्रदेश में भी भारी बारिश के बाद ऊना जिले के कुछ हिस्सों में बाढ़ आ गई है। वहीं पिछले 24 घंटे से कुल्लू जिले में बर्फबारी जारी है। हिमाचल प्रदेश में पिछले 2 दिनों में यहां भारी बारिश हुई है। यहां बाढ़ के कारण 22 लोगों की मौत हो गई है। राज्यों को 574 करो़ड़ रुपए का नुकसान हुआ है। इसको लेकर विस्तृत रिपोर्ट बाद में आएगी।

उत्तर प्रदेश और बिहार में ऐसा रहेगा मौसम 

20 अगस्त को पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में बारिश की तीव्रता बढ़ जाएगी। 21 अगस्त को पूर्वी उत्तर प्रदेश में अच्छी बारिश देखने को मिलेगी। झारखंड, ओडिशा में छिटपुट बारिश की संभावना है, जबकि पश्चिम बंगाल सूखा रहेगा। 21 अगस्त को पूर्वी भारत में बारिश में कमी देखने को मिलेगी जबकि झारखंड और ओडिशा में कुछ बारिश हो सकती है।

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप